बागपत के गरीब की बेटी कविता पाल ने किया प्रदेश का नाम रोशन

लवी जैन,जिला संवाददाता, बागपतKey line times

www.\nkeylinetimes.com

Youtube.keyline times

स्लग :— गरीब की बेटी ने किया यूपी में नाम रोशन, 35 लाख स्कॉलरशिप मिलीफीड :—एंकर :— एक कहावत है कि गुदड़ी में लाल पैदा होते है। इस बात को सही कर दिखाया है बागपत की एक बेटी ने। अभावों में पली बेटी को 35 लाख रुपये की स्कॉलरशिप मिली है। बागपत की ये होनहार बिटिया अब पढ़ाई करने के लिए हरियाणा जायेगी। हरियाणा की अशोका यूनिवर्सिटी ने भी इस बेटी के हौंंसले और काबलियत के आधार पर पूरी फीस को माफ कर दी है। बागपत की इस बेटी की तारीफ की जा रही है और घर परिवार में लोग मिठाईयां खिलाकर अपना आशीर्वाद ओर बधाई दे रहे है।वीओ- कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो हर मुश्किल काम भी आसान हो जाता है और इंसान पहाड़ो से भी रास्ता बना लेते है। बागपत के गरीब परिवार की एक बेटी ने ऐसा ही कमाल कर दिखाया है । जी हां ये तस्वीरें है बागपत की होनहार बेटी कविता पाल की ….. जिसके पिता किसी के यहां घर पर काम करते है और पेड़ पौधे बेचते है। बेटी को पढ़ने लिखने की लगन थी और कुछ अलग करने का जज्बा। परिवार के लोगो की माली हालत देखकर बेटी ने झुकने के बजाय कुछ अलग करने की सोची और बस उसने पढ़ाई का रास्ता चुनकर न केवल अपनी बल्कि अपने परिवार की भी जिंदगी भी बदल डाली। बागपत की रहने वाली कविता पाल शुरुआत से ही पढ़ाई लिखाई में होनहार थी और हमेशा फर्स्ट क्लास आयी। इस बिटिया ने हरियाणा की अशोका यूनिवर्सिटी से एग्जाम दिया और उसमें पास होकर दाखिला लिया। किस तरह कविता ने ये मुकाम हासिल किया आइये पहले आपको सुनवाते है ।बाइट :— कविता पाल ( छात्रा )वीओ 2 :— कविता पाल गरीब परिवार से आती है ….. और कविता ने अब अशोका यूनिवर्सिटी सोनीपत से 35 लाख की छात्रवृत्ति हासिल की है। कविता ने देश की शीर्षस्थ निजी शिक्षण संस्थानों में से गिनी जाने वाली अशोका यूनिवर्सिटी, कुंडली सोनीपत, हरियाणा से रसायन विज्ञान ऑनर्स के एडवांस चार वर्षीय कोर्स के लिए 35 लाख रुपये की छात्रवृत्ति अर्जित की है। कविता के बारहवीं कक्षा के अच्छे परिणाम एवं इंटरव्यू के दौरान दिखाई गई विलक्षण प्रतिभा के आधार पर अशोका यूनिवर्सिटी की एडमिशन कमेटी ने निर्णय लिया कि इस छात्रा की सारी ट्यूशन फीस, हॉस्टल, किताबों और अन्य शैक्षणिक गतिविधियों संबंधित फीस पूर्णतया माफ कर दी जाए। कविता की इस कामयाबी के पीछे उसके माता पिता और खासकर उनके रिश्तेदार संदीप चौधरी व मनीषा चौधरी का हाथ है जिन्होंने बचपन से लेकर अब तक उसे पढ़ने लिखने व आगे बढ़ने में सदा ही कविता और उसके परिवार का साथ दिया है।बाइट :— संदीप चौधरी ( रिश्तेदार )वीओ 3 :– वीओ :— बेटी की इस कामयाबी में परिवार के लोगो के आखो से आंसू छलके उन्हें विश्वाश नही हुआ कि तंगहाली, गरीबी और बदहाली में जूझते इस परिवार की बेटी भी कुछ ऐसा कर सकती है। अब परिवार के लोगो का कहना है कि ये सब भगवान के आशीर्वाद से हुआ है हमे उम्मीद है कि हमारी बेटी आगे हमारा नाम और भी रोशन करेगी ।बाइट :— रोशन पाल (कविता पाल के पिता )बाइट :— अखिलेश ( कविता पाल की माँ )बागपतलवी जैन9012547168

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *