गमगीन माहौल में हुआ सोलंकियातला सरपंच का अन्तिम संस्कार

सरपंच गोपाल सिंह राठौड़ के आत्महत्या मामले मे गुरुवार शाम पुलिस प्रशासन के आश्वासन पर धरना समाप्त। शुक्रवार को हुआ सरपंच का अन्तिम संस्कार

डी.आर.धांधल जिला रिपोर्टर@ की लाइन टाइम्स।

जोधपुर। जिले के उपखंड क्षेत्र शेरगढ़ के ग्राम पंचायत सोलंकियातला सरपंच गोपालसिंह राठौड़ का शुक्रवार को गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। गौरतलब है कि सोलकियातला सरपंच गोपालसिंह का शव बुधवार को उनके आवास पर रस्सी से लटका मिला था।

सरपंच गोपालसिंह राठौड़ का शुक्रवार को गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। मुखाग्नि बड़े बेटे खेतसिंह ने दी। गौरतलब है कि सरपंच गोपालसिंह का शव बुधवार को उनके आवास पर रस्सी से लटका मिला था। सरपंच पिछले कुछ समय से मानसिक तनाव में बताए जा रहे थे। बुधवार सवेरे अपने आवास पर फांसी लगाकर जान दे दी थी। उनके पास से 34 पेज का एक सुसाइड नोट मिला था। जिसमें उन्होने पंचायत में कामकाज में दंखलनदाजी व घोटाले का आरोप कुछ लोगों पर लगाए थे। जिसके बाद शव को शेरगढ सीएचसी की मौर्चरी मे रखवाया गया था। ग्रामीणो व पूर्व विधायक बाबूसिंह राठौड ने पुलिस थाने के आगे धरना प्रदर्शन कर आरोपीयो को गिरफ्तार करने की मांग की थी। शेरगढ मे चप्पे चप्पे पर प्रशासन ने पुलिस बल तैनात कर दिया था। जिसके बाद दो दिन से तनाव पूर्ण हालात के बाद गुरुवार शाम पुलिस प्रशासन के आश्वाशन पर धरना समाप्त किया गया और शुक्रवार शुबह पुलिस ने सरपंच के शव को परिजनो को सुपुर्द किया।

सोलंकियातला सरपंच के आत्महत्या मामले में गांव में पसरा सन्नाटा, नहीं खुले बाजार।

पुलिस द्वारा शव को उसी दिन शेरगढ़ मोर्चरी में रखवाया गया था। परिजन आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करने तक शव नहीं उठाने पर अड़ गए थे। दो दिन तक चले घटनाक्रम के बाद गुरुवार शाम को पुर्व विधायक बाबूसिंह व प्रतिनिधि मंडल तथा ग्रामीण एसपी के बीच हुई वार्ता सफल रही। इसके बाद ग्रामीण माने। शुक्रवार सवेरे मृतक सरपंच गोपालसिंह का शव शेरगढ़ से उनके गांव सोंलकियातला लाया गया। मृतक की देह पहुंचते ही घर में करूण क्रंदन से हर किसी की आंख नम हो उठी। परिजनो का रो रोकर बुरा हाल था।

सोलंकियातला गांव सरपंच आत्महत्या मामला – दोनों व्यवस्थापक हिरासत में, गिरफ्तारी के आश्वासन पर उठाया शव।

शेरगढ़ उपखण्ड अधिकारी महावीरसिंह जोधा व बालेसर एसएचओ देवेंद्रसिंह, एएसआई भंवरसिंह मय दल की उपस्थित में मृतक सरपंच की शवयात्रा सोलंकियातला गांव स्थित श्मसान स्थल पहुंची जहां पूर्व शेरगढ़ विधायक बाबूसिंह राठौड़, बालेसर प्रधान बाबूसिंह ईन्दा, शेरगढ़ प्रधान तगाराम, जिला परिषद सदस्य विक्रमसिंह इन्दा सहित क्षेत्र की कई ग्राम पंचायतो के सरपंच, ग्राम विकास अधिकारी व पुलिस प्रशासन के अधिकारी तथा ग्रामवासियों ने नम आंखों से अपने सरपंच को विदाई दी।

सरपंच की आत्महत्या मामले में आई बड़ी खबर, जेब से मिला था 32 पेज का सुसाइड नोट एवं मृतक के भतीजे वीरेंद्रसिंह ने बताया कि मृतक सरपंच के घर से शुक्रवार सुबह 18 पृष्ठ के सुसाइड नोट की फाइल ओर मिली जो मेरे पास सुरक्षित है।

दो दिन से नहीं जले चूल्हे

सरपंच की आत्महत्या प्रकरण के बाद दो दिन तक शोक रहा। क्षेत्र के गांव ढाणियों में चूल्हे तक नहीं जले। पार्थिव देह को शृद्धाजंलि व अंतिम संस्कार के बाद भी माहौल में उदासीपूर्ण है।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *