जनसंख्या वृद्धि पर बोले पीएम मोदी, छोटा परिवार रखना भी देशभक्ति है

पीएम नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आज लाल किले के प्राचीर से देशवासियों को संबोधित किया।
पीएम मोदी ने इस दौरान जनसंख्या विस्फोट, भ्रष्टाचार, अनुच्छेद 370, तीन तलाक बिल जैसे तमाम मुद्दों को जिक्र किया।

पीएम मोदी ने इस दौरान बढ़ती जनसंख्या को लेकर चिंता जताई और कहा, हमारे यहां जो जनसंख्या विस्फोट हो रहा है, ये आने वाली पीढ़ी के लिए अनेक संकट पैदा करता है, लेकिन ये भी मानना होगा कि देश में एक जागरूक वर्ग भी है जो इस बात को अच्छे से समझता है, ये वर्ग इससे होने वाली समस्याओं को समझते हुए अपने परिवार को सीमित रखता है, ये लोग अभिनंदन के पात्र हैं, ये लोग एक तरह से देशभक्ति का ही प्रदर्शन करते हैं।
पीएम मोदी ने कहा, “सीमित परिवारों” से ना सिर्फ खुद का बल्कि देश का भी भला होने वाला है, जो लोग सीमित परिवार के फायदे को समझा रहे हैं वो सम्मान के पात्र है, घर में बच्चे के आने से पहले सबको सोचना चाहिए कि क्या हम उसके लिए तैयार हैं।
प्रधानमंत्री मोदी ने देश में आबादी नियंत्रण के लिये छोटे परिवार पर जोर दिया और कहा कि आबादी समृद्ध हो, शिक्षित हो तो देश को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता।
उन्होंने अपने संबोधन में तीन तलाक बिल पर कहा, देश की मुस्लिम बेटियां डरी हुई जिंदगी जी रही थीं, भले ही वो तीन तलाक की शिकार नहीं बनी हों लेकिन उनके मन में डर रहता था।
तीन तलाक को इस्लामिक देशों ने ही खत्म कर दिया था, तो हमने क्यों नहीं किया, अगर देश में दहेज, भ्रूण हत्या के खिलाफ कानून बना सकते हैं तो तीन तलाक के खिलाफ क्यों नहीं,
उन्होंने कहा कि तीन तलाक पर लिया गया फैसला राजनीति से ऊपर उठकर लिया गया।
*फ़िर बढ़ी सुगबुगाहट फ़िर नया कुछ होने वाला है?*

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *