गाजियाबाद : निजी चैनल का एंकर बताकर फर्जीवाड़ा करने वाली महिला गिरफ्तार, थाने में जमकर किया हंगामा

गाजियाबाद। आखिरकार फर्जीवाड़ा करने के आरोप में अधिवक्ता दीप्ति शर्मा को कविनगर थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि फ र्जी फेसबुक प्रोफ ाइल के जरिए खुद को न्यूज चैनल की एंकर दिखाकर एक युवक से चैनल में नौकरी दिलाने के नाम पर एक लाख रुपये की ठगी की थी, जिसके बाद 29 मार्च से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। सोमवार को पुलिस ने साहिबाबाद क्षेत्र से गिरफ्तार किया।

सीओ द्वितीय आतिश कुमार ने बताया कि राजेंद्रनगर साहिबाबाद निवासी महिला दीप्ति शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है। महिला अधिवक्ता के खिलाफ गोविंदपुरम निवासी हरेंद्र कुमार ने 29 मार्च को कविनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसका आरोप था कि तीन माह पहले फेसबुक के माध्यम से उसकी गार्गी देव नाम की महिला से दोस्ती हुई। प्रोफ ाइल में महिला ने खुद को एक प्रतिष्ठित अंग्रेजी निजी न्यूज चैनल में एंकर बताया था। मैसेंजर पर हुई बातचीत के माध्यम से गार्गी देव ने हरेंद्र को न्यूज चैनल या फिर दूसरी जगह नौकरी दिलवाने का भरोसा दिया था। इसकी एवज में एक लाख रुपये की मांग की। पीड़ित हरेंद्र ने गार्गी द्वारा भेजे गए एक व्यक्ति को गोविंदपुरम में एक लाख रुपये भी दे दिए। इसके बाद से पीड़ित लगातार आरोपी गार्गी से संपर्क करने का प्रयास करता रहा। कुछ दिन बाद उसका फ ोन रिसीव नहीं हुआ और न ही मैसेंजर पर कोई जवाब मिला। इसके बाद हरेंद्र ने आरोपी महिला के खिलाफ केस दर्ज कराया था। सीओ का कहना है कि आरोपी महिला के फेसबुक प्रोफ ाइल के बारे में जानकारी की गई तो पता चला कि गार्गी डबराल नाम की महिला के फेसबुक एकाउंट से फ ोटो चोरी कर गार्गी देव नाम से फर्जी एकाउंट बनाया गया। जांच में ये भी पता चला कि जिस अंग्रेजी न्यूज चैनल में आरोपी महिला खुद को एंकर बता रही है, वह हिंदी न्यूज चैनल है। उसमें गार्गी देव नाम की कोई महिला एंकर काम नहीं करती है। आतिश कुमार का कहना है कि साइबर सेल से जांच कराने पर पता चला कि आरोपी महिला दीप्ति शर्मा है, जिसने फर्जी तरीके से फेसबुक प्रोफाइल बनाकर ठगी को अंजाम दिया।
——————
– गिरफ्तारी के बाद थाने में हंगामा
आरोपी महिला ने गिरफ्तारी के बाद कविनगर थाने में काफी देर तक हंगामा किया। वह महिला दरोगा और कर्मचारियों को एक वीडियो में धमकाती हुई नजर आ रही है। साथ ही अधिकारियों को भी बुरा भला कहा। पुलिसकर्मियों ने उसे शांत करने की कोशिश की, लेकिन उसने किसी की एक नहीं सुनी।
– सीएम पर की थी अभद्र टिप्पणी
सीओ का कहना है कि महिला तमाम विवादों में रही है। कोर्ट के आदेश पर साहिबाबाद थाने में फर्जी दस्तावेज तैयार पासपोर्ट बनवाने का भी मुकदमा दर्ज है। इसके अलावा दीप्ति के खिलाफ सिहानी गेट थाने में प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ फेसबुक पर अभद्र टिप्पणी करने का भी केस दर्ज है। गोविंदपुरम निवासी प्रशांत ने ठगी का आरोप लगाते हुए एक केस दर्ज कराया था। इतना ही नहीं आरोपी महिला आईपीएस अधिकारियों के साथ फोटो खिंचवाकर फेसबुक पर वायरल करती थी और लोगों पर रौब झाड़ती थी।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *