रुपयो से भरा पर्स वापस लौटा कर दिया ईमानदारी का परिचय

पत्रकार अमर यादव@की लाईन टाईम्स न्यूज

बालेसर।इन दिनो ऐसी कहावत चल रही है की भाई अब तो घोर कलयुग का जमाना चल रहा है ऐसे जमाने मे कहा ईमानदारी रही लेकिन इस घोर कलयुग के जमाने मे भी कई न कई जरुर ईमानदारी की मिशाल जिंदा है।
धीरपुरा मे लगे बाबा की निम्बडी मेले में भूंगरा निवासी पारस परिहार का रुपयो से भरा बटुआ भीड़-भाड़ वाली जगह पर जेब से निकलकर गिर गया था,जो धीरपुरा निवासी कुन्नाराम पुत्र भगाराम माली को मिला,बटुए में भारतीय रुपयो के साथ विदेशी रुपये एटीएम कार्ड,विदेशी हेल्थ कार्ड ओर अलग पासपोर्ट साईज के फोटोग्राफ थे,इसको लेकर कुन्नाराम माली ने समाजसेवी पत्रकार अमर यादव से संपर्क कर यह जानकारी सोशल मीडिया पर डालने की बात कही तो उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर पता लगना चाहा तब पोस्ट देखकर अध्यापक धीरज परिहार ने यादव से फोन पर सम्पर्क कर बताया की यह पर्स तो मेरे अंकल का है जो अरब कंट्री मे नौकरी करता है कुछ दिन पहले ही छुट्टी पर गांव आये, जो मेले आये थे उनका पर्स जेब से गिर गया,संपर्क के बाद मंगलवार वो लौग भुंगरा से सुबह कुन्नाराम माली के घर धीरपुरा पर्स लेने हेतु आए तब कुन्नाराम पुत्र भगाराम माली ने आसाराम,पारसराम, मोतीराम माली,पत्रकार अमर यादव, अध्यापक धीरज परिहार, तिलोक परिहार की मौजूदगी में पर्स को सम्मान पारस परिहार को वापस लौटाकर ईमानदारी का परिचय दिया पर्स वापस लोटाने पर ग्रामीणों ने कुन्नाराम की ईमानदारी की प्रशंसा की।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *