गाजे-बाजे के साथ हुअा गणपति विसर्जन

बाड़मेर मुख्य संवाददाता सरूप प्रजापत

बायतु में गणेश महोत्सव गुरुवार काे समापन हुआ। जुलूस सुनारों के बास से होते हुए मुख्य बाजार से पुराना गांव तालाब पहुंचा ग्रामवासियों व ब्राह्मण सर्वांकार समाज ने धूमधाम से गणपति विसर्जन किया अाैर खुशहाली की कामनाएं की।इस दौरान ढोल बाजे पर झुमते श्रद्धालुओं ने गणपति बप्पा मोरिया के जयकारे लगाए।जुलूस के रूप में पुराना गांव तालाब पहुंचकर प्रतिमा का विसर्जन किया।

भाद्रपद मास में शुक्लपक्ष की चतुर्दशी को अनंत चतुर्दशी कहा जाता है। इस दिन अनंत भगवान की पूजा करने का विधान है। इस दिन गणपति विसर्जन भी किया जाता है, इस कारण इस दिन का महत्व और बढ़ जाता है। माना जाता है कि प्रतिमा का विसर्जन करने से भगवान गणपति पुनः कैलाश पर्वत पर पहुंच जाते हैं।इस मौके पर, पुखराज P सोनी, मनीष सोनी, ओमप्रकाश सोनी, महेंद्र चोपड़ा,अभिताभ सेवक,सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *