राजस्थान का किसान मदेरणा के अतुलनीय योगदान के कारण उनका हमेशा ऋणी रहेगा: कड़वासरा

श्रद्धासुमन अर्पित कर किसानों ने जयंती मनाई

अमर यादव@बालेसर । किसानों के हृदय सम्राट व् ईमानदारी के प्रतिमान सादगी व् सच्चाई के प्रतिभा एवं प्रतिभूति, उच्च कोटि के विधिवत, किसान मसीहा परसराम मदेरणा की जयंती शनिवार को लोहावट सहित पीलवा,कुशलावा, मोरिया,चाडी,लक्ष्मण नगर,पलीना,भोजासर, देणोक,जम्भेश्वर नगर, बापिणी,पल्ली,पल्ली प्रथम,नौसर,जेरिया,रायमलवाडा, स्थानों पर ग्रामीणों, किसानों व युवाओं ने मदेरणा की तस्वीर पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस अवसर पल्ली में परसराम मदेरणा को याद करते हुए समाजसेवी युवा अशोक कड़वासरा पल्ली ने कहा कि स्व. परसराम मदेरणा साहब 36 कौम को साथ लेकर चलने वाले महान किसान नेता थे। उन्होंने किसानों के हित में सदैव कार्य किया। किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए वे हर समय तैयार रहे। राजस्थान का किसान समाज मदेरणा के अतुलनीय योगदान के कारण उनका हमेशा ऋणी रहेगा।
इस दौरान समाजसेवी राजकुमार प्रजापत, पप्पूराम उदाणी, कामधेनु सेना के महासचिव जयप्रकाश सारण,किशन कड़वासरा,विजय कुमार,सजनसिहं भाटी, पुरखाराम प्रजापत, दुर्गाराम कड़वासरा, गोरधनराम गोस्वामी, विनोद शर्मा, पुरखाराम भाटिया, नरेंद्र चौहान, कमलेश ढाका,सजय विश्नोई,हरकाराम ,शिवपाल सिंह भाटी, धर्माराम सारण नौसर, गोविंद चौधरी,मनीष कुमार सारण, युवा समाजसेवी रामनिवास सारण पल्ली,बलन्ताराम खिचड, मोहनराम जाणी सदरी, सहित लोगों ने मदेरणा को याद करते हुए श्रृद्धासुमन अर्पित किए!गौरतलब है कि 23 जुलाई 1926 को जोधपुर फलौदी में लक्ष्मण नगर में जन्मे मदेरणा राजस्थान प्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में से एक थे। मदेरणा को किसान मसीहा और राजस्थान की राजनीति के लौह पुरूष की पहचान मिली।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *