गुरु व शिष्य के बीच भावनात्मक व आत्मत्मक रिश्ता: जाट

रामदेव बिश्नोई सजनाणी संवाददाता घंटियाली

राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भींयासर के प्रधानाचार्य मदनलाल चौधरी का सीकर जिले में व शिक्षक जोराराम विश्नोई का छितरबेरा में स्थानांतरण होने पर विद्यालय प्रांगण में विदाई समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रधानाचार्य ने कहा कि गुरु व शिष्य के बीच एक आत्मत्मक व भावनात्मक रिश्ता है। जो गुरु से शिक्षा व दीक्षा लेकर शिष्य किसी भी मंजिल को पा सकते है। सीबीओ मदनलाल सुथार ने कहा शिक्षण संस्थान एक घर है। घर और शिक्षण संस्थान ओर घर से गुण, शिक्षा ,संस्कार से ही बालक अपना रास्ता चुन सकता है।इस मौके पर एसीबीओ अशोक कुमार राजपुरोहित, शिक्षक नेता अरुण व्यास, प्रधानाचार्य आऊ मांगीलाल विश्नोई, प्रधानाचार्य मोटाई शिवभगवान , अध्यापक हरचंद राम , ओम प्रकाश भजनलाल, हरलाल राम, अशोक पुनिया ,आदि सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे जिस समय प्रिंसिपल साहब बच्चों को संबोधित कर रहे थे ।

उस समय प्रिंसिपल साहब के आंखों में आंसू आ गए और छात्र-छात्राओं के भी आंखों में आंसू आ गए और वहां मौजूद सभी अध्यापक व अध्यापिका के आंखों में आंसू आ गए ।इतना प्यार व लगाव था

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *