गाजियाबाद : दुर्लभ प्रजाति के पांच उल्लूओ के साथ दो लोग गिरफ्तार

गाजियाबाद में दीपावली से महज कुछ दिन पूर्व उल्लुओं की तस्करी का चौकाने वाला मामला सामने है । गाजियाबाद की इंदिरापुरम पुलिस ने चेकिंग के दौरान दुर्लभ प्रजाति के पांच उल्लूओ के साथ दो लोगो को गिरफ्तार किया है ।

पुलिस के अनुसार दीपावली पर तांत्रिक क्रिया के बाद बलि दिए जाने के लिए ये उल्लू बेचे जाने थे । पुलिस ने ऑन डिमांड उल्लुओं की सप्लाई करने वाले दो तस्करों को गिरफ्तार किया है । पुलिस के अनुसार बरामद दुर्लभ प्रजाति के इन उल्लुओं की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में करीब एक करोड़ रुपये से ज्यादा है।

पुलिस अब इस दोनो तस्करों से और पूछताछ में जुटी है। इस तस्करी से जुड़े और लोगो और तस्करी कर लाये गये उल्लूओ के ख़रीदारों के बारे में पूछताछ पुलिस कर रही है। पुलिस के अनुसार इन्हें खरीदने का ऑर्डर देने वाले लोगो पर भी पुलिस कार्यवाही करेगी।

दरसल भारतीय मान्यताओं के अनुसार उल्लू को देवी लक्ष्मी का वाहन माना जाता है । जिसके चलते पुलिस के अनुसार दिपावली के दिन उल्लू की बलि दिए जाने की कुप्रथा भी प्रचलित हैं । दीपावली के दिन तंत्र मंत्र,प्रयोग और धन की देवी की को प्रसन्न कर धन प्राप्ति के लिए उल्लुओं की बलि लोगो द्वारा दी जाती हैं । जिसके चलते दीपावली के आसपास उल्लुओं की तस्करी बढ़ जाती है। वही पुलिस के अनुसार बरामद उल्लू दुर्लभ प्रजाति के बताए जा रहे हैं। तस्करों से बरामद किए गए इन 5 उल्लुओं की अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत एक करोड़ से ज्यादा बतायी जा रही है। पुलिस ने वन विभाग के अधिकारियों को पूरे मामले की सूचना दे दी है ।और बरामद उल्लुओं को वन विभाग की मदद से किसी सुनसान वन एरिये में छोड़ा जाएगा ।

गाजियाबाद पुलिस के अनुसार दिल्ली
एनसीआर में दीपावली के त्योहार पर उल्लुओं की तस्करी के मामले सामने बीते कुछ सालों में आने के चलते इनकी रोकथाम के लिए सघन चेकिंग अभियान पुलिस द्वारा इंदिरापुरम इलाके में चलाया जा रहा था। जिसके चलते इंदिरापुरम थाना क्षेत्र के पॉश इलाके वैशाली में उल्लूओ की तस्करी कर ले जा रहे दो तस्करों सुमित और प्रदीप निवासी सिहानी गेट गाजियाबाद को बाइक पर एक बाल्टी में बंद इन 5 दुर्लभ प्रजाति के उल्लुओं ले जाते समय वैशाली पुलिया के पास से गिरफ्तार कर लिया। इन पांचों उल्लुओं को भी गिरफ्तार तस्करों के पास से बरामद कर लिया गया ।अब पुलिस उल्लुओं की तस्करी से जुड़े और लोगो के बारे में गिरफ्तार तस्करों से पूछताछ कर रही है। पुलिस के अनुसार ऑन डिमांड इनकी सप्लाई की जाती थी । वही इनके खरीदारों की भी पहचान कर कार्यवाही की बात गाजियाबाद पुलिस के अधिकारी कर रहे हैं।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *