गाजियाबाद : सौतेली बेटी से दुष्कर्म की कोशिश का आरोपी जिला अस्पताल में पुलिस कस्टडी से फरार

गाजियाबाद। आठ वर्षीय सौतेली बेटी से दुष्कर्म की कोशिश करने का आरोपी जिला अस्पताल में पुलिस कस्टडी से भाग गया। लिंक रोड पुलिस ने उसे दो माह की मशक्कत के बाद गिरफ्तार किया था। घटना के बाद पुलिस में हड़कंप मच गया। लापरवाही बरतने पर एसएसपी ने हेड कांस्टेबल को निलंबित कर मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं। पुलिस ने घंटों कांबिंग की, लेकिन आरोपी का पत नहीं चला।
जानकारी के मुताबिक, थाना सिकंदरपुर (बलिया) क्षेत्र निवासी फिरोज उर्फ राजू ने दूसरे संप्रदाय की महिला से शादी की थी। लिंक रोड थाना क्षेत्र में रहने वाली उक्त महिला चार बच्चों की मां थी। आरोप है कि करीब दो माह पहले फिरोज ने ने महिला की आठ वर्षीय बेटी से दुष्कर्म करने की कोशिश की थी। पीड़िता के शोर मचाने पर आरोपी भाग गया था। पीड़ित बच्ची की मां ने गत छह सितंबर को लिंक रोड थाने में मुकदमा दर्ज कराया था।
पकड़े जाने के कुछ घंटों बाद ही भाग निकला
घटना के बाद आरोपी फिरोज उर्फ राजू अपने गृह जनपद बलिया भाग गया था। पुलिस दो माह से उसकी तलाश में जुटी थी। लिंक रोड पुलिस ने शुक्रवार सुबह उसे सूर्यनगर चौराहे से गिरफ्तार कर लिया था। इसके अलावा पुलिस ने चोरी के मामले में शाहरूख नाम के युवक को महाराजपुर से पकड़ा था। पुलिस शाहरूख व फिरोज को कोर्ट में पेश करने से पहले मेडिकल परीक्षण के लिए जिला अस्पताल लेकर आई थी।

पर्स चुराकर भाग रहा है…. शोर मचाकर किया गुमराह
पुलिस की मानें तो फिरोज का मेडिकल परीक्षण कराने का जिम्मा लिंक रोड थाने के हेड कांस्टेबल जीतपाल व होमगार्ड सतीश को सौंपा गया था। बताया गया है कि जिला अस्पताल इमरजेंसी के गेट पर पहुंचते ही फिरोज ने शोर मचा दिया कि एक लड़का उसका पर्स चुराकर भाग रहा है, उसे पकड़ो। पर्स चोरी के शोर से पुलिसकर्मी गुमराह हो गए, इसी दौरान फिरोज चकमा देकर भाग निकला।
वादी और उसके चार बच्चों को खतरा
बताया गया कि आरोपी साइको टाइप का है। कस्टडी से उसके फरार होने के बाद मुकदमा दर्ज कराने वाली महिला व उसके चार बच्चों की जान को खतरा पैदा हो गया है। पीड़िता का कहना है कि आरोपी उसे व उसके बच्चों को कोई भी नुकसान पहुंचा सकता है। हालांकि, पुलिस का कहना है कि आरोपी को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *