अयोध्या फैसले को लेकर एमिटी के सभागार में हुआ जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक का आयोजन

मोहसिन खान, संवाददाता, दादरी, गौतम बुद्ध नगर से जिला मजिस्ट्रेट बीएन सिंह की अध्यक्षता में एमिटी के सभागार में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक का आयोजन अयोध्या को लेकर आने वाले सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय को दृष्टिगत रखते हुए की गई बैठक, पूरे जनपद में शांति व्यवस्था एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से संभ्रांत नागरिकों के साथ विस्तार पूर्वक विचार विमर्श जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के द्वारा सोशल मीडिया पर गहनता के साथ की जा रही है निगरानी किसी भी

असामाजिक तत्वों के द्वारा आपसी सद्भाव बिगाड़ने का प्रयास करने पर जिला प्रशासन करेगा सख्त कार्यवाही, गैंगस्टर एवं लगाया जाएगा एन.एस.ए. अयोध्या के संबंध में आने वाले सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के उपरांत जनपद में शांति व्यवस्था एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से एमिटी के सभागार में जिला पीस कमेटी की बैठक जिला मजिस्ट्रेट बीएन सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई। इस अवसर पर जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों तथा पुलिस अधिकारियों तथा जनपद के संभ्रांत नागरिकों के द्वारा प्रतिभाग किया गया। पीस कमेटी की मीटिंग में पूरे जनपद से प्रतिभाग करने वाले संभ्रांत नागरिकों से जिला

प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारियों द्वारा खुलकल वार्तालाप किया गया तथा सभी से कानून व्यवस्था शांति व्यवस्था बनाने के संबंध में सुझाव भी प्राप्त किए गए। जनपद भर से आए सभी संभ्रांत नागरिकों के द्वारा जनपद में शांति व्यवस्था बनाने में सभी के द्वारा एक स्वर में जिला प्रशासन का सहयोग करने का आश्वासन दिया गया। जिला मजिस्ट्रेट बीएन सिंह ने इस महत्वपूर्ण पीस कमेटी की बैठक में अध्यक्षता करते हुए कहा कि सर्वोच्च न्यायालय भारत की सर्वोच्च संस्था है। अतः उसके द्वारा जो निर्णय दिया जाएगा उसका सभी को अंतर्मन के साथ सम्मान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय आने के उपरांत यदि किसी भी असामाजिक तत्व के द्वारा किसी भी माध्यम से सोशल मीडिया या अन्य किसी भी व्यवस्था के तहत जनपद का आपसी भाईचारा एवं सद्भाव बिगाड़ने का प्रयास किया जाएगा तो उसके लिए जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन सख्ती के साथ तत्काल प्रभाव से कार्यवाही सुनिश्चित करेगा।। उन्होंने स्पष्ट किया कि जनपद में धारा 144 लागू है यदि किसी के द्वारा इसका उल्लंघन किया जाएगा तो कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। आईपीसी की धारा 151 में जिला प्रशासन लगातार असामाजिक तत्वों के विरुद्ध कार्रवाई कर रहा है। उन्होंने स्पष्ट किया कि सौहार्द बिगाड़ने वालों के विरुद्ध जिला प्रशासन गैंगस्टर एवं एनएसए की कार्रवाई भी तत्काल प्रभाव से करेगा। अतः सभी के द्वारा सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का अंतर्मन से सम्मान किया जाए और आपसी भाईचारा एवं सद्भाव बिगाड़ने का किसी के द्वारा प्रयास ना किया जाए। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के द्वारा इस महत्वपूर्ण मुद्दे को लेकर सोशल मीडिया पर कड़ी नजर बनाकर रखी जा रही है और इस क्रम में एक व्यक्ति को जेल भी भेजने की कार्रवाई जनपद में सुनिश्चित की गई है। यदि किसी के भी द्वारा फेसबुक, टि्वटर, व्हाट्सएप या अन्य सोशल मीडिया के द्वारा जनपद का आपसी सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास किया जाएगा तो उसे तत्काल गंभीरता से लेकर जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन कार्यवाही सुनिश्चित करेगा। उन्होंने जनपद के समस्त संभ्रांत नागरिकों का आह्वान करते हुए कहा कि निर्णय आने के उपरांत कोई भी पक्ष किसी प्रकार की खुशी जाहिर एवं अन्य प्रकार की गतिविधियां नहीं करेंगे तथा इस संबंध में आपसी सौहार्द बिगाड़ने के संबंध में कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया पर किसी प्रकार का पोस्ट नहीं करेंगे। यदि किसी को ऐसे पोस्ट के संबंध में जानकारी मिले तो संभ्रांत नागरिक तत्काल उसकी जानकारी अपने थानाध्यक्ष, क्षेत्राधिकारी पुलिस, पुलिस अधीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक तथा प्रशासन के अधिकारियों में संबंधित अपने तहसीलदार, उप जिला अधिकारी, अपर जिलाधिकारी एवं जिला मजिस्ट्रेट को भी जानकारी उपलब्ध करा सकते हैं ताकि ऐसे असामाजिक तत्वों के विरुद्ध तत्काल प्रभाव से कठोरतम कार्यवाही प्रस्तावित की जा सके। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने इस अवसर पर कानून व्यवस्था एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के संबंध में की जा रही तैयारियों की जानकारी संभ्रांत नागरिकों को उपलब्ध कराई। उन्होंने कहा कि आज जिला पीस कमेटी की मीटिंग में जो निर्णय लिए गए हैं सभी संभ्रांत नागरिक अपने अपने क्षेत्र में उनका व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार करें और ऐसे सभी असामाजिक तत्वों तक यह संदेश पहुंचाने की कार्रवाई करें ताकि कोई भी असामाजिक तत्व किसी प्रकार का आपसी सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास न कर सके। इस महत्वपूर्ण बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन दिवाकर सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व मुनींद्र नाथ उपाध्याय, अपर जिलाधिकारी भूमि अध्याप्ति बलराम सिंह, नगर मजिस्ट्रेट शैलेंद्र कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक यातायात एके झा, पुलिस के अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण एवं जनपद के प्रत्येक थाने से आए संभ्रांत नागरिकों के द्वारा भाग लिया गया। आयोजित महत्वपूर्ण गोष्ठी का संचालन क्षेत्राधिकारी पुलिस श्वेताभ पांडेय के द्वारा किया गया। राकेश चौहान जिला सूचना अधिकारी गौतम बुद्ध नगर।*

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *