संविधान दिवस पर बाबासाहेब डॉ भीमराव अंबेडकर के योगदान पर संगोष्ठी का आयोजन

निर्मल जैन@बालेसर

बालेसर। राजकीय महाविद्यालय बालेसर संविधान दिवस पर संविधान के निर्माण में बाबासाहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के योगदान पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कॉलेज प्राचार्य श्रीमती इंदु बाला कुमावत दीप प्रज्वलन एवं पुष्प अर्पित कर संगोष्ठी की शुरुआत की।भारत सरकार ने संविधान लागू होने के दिन 26 नवंबर को 2015 से हर वर्ष संविधान दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी। मुख्य वक्ता सहायक आचार्य श्री सूरज सैनी ने भीमराव अंबेडकर के भेदभाव, छुआछूत,असमानता के विरोध और सामाजिक न्याय के दर्शन पर विस्तृत विचार रखें और बताया कि 21वीं सदी के समाज में भी छुआछूत और भेदभाव का विष फैला हुआ है इसे दूर करने के लिए बाबा साहेब के विचारों को पढना और आत्मसात करना चाहिए। इस दौरान सूचना सहायक श्री पृथ्वीराज और श्री सुभान खान उपस्थित थे। संगोष्ठी में नेपाल कंवर, महेंद्र, नरेंद्र, दमाराम, शिवलाल आदि विद्यार्थियों ने अपने विचार प्रकट किए ।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *