राष्ट्रीय पशु ऊंट की हालात दयनीय

ग्रामीण अपने स्तर पर पिछले तीन दिनो से निजी पशु चिकित्सक से करवा रहे हैं ऊट के जख्मी पेर का उपचार

ब्यूरो चीफ अमर यादव@बालेसर। उपखंड क्षेत्र की ग्राम पंचायत धीरपुरा बाबा की नीमड़ी ओरण में एक लावारिस ऊंट पिछले 10 दिनों से घूम रहा है जिसका आगे का एक पेर जो निछले हिस्से से किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा लोहे की तार से कसकर बांध दिया गया था।

पत्रकार अमर यादव ने बताया की हमने ऊंट को लगातार एक जगह बैठा देखकर हम बाबा कि निम्बड़ी के आसपास ढाणियों में रहने वाले लोगो ने एकत्रित होकर ऊट को नजदीक जाकर देखा तो ऊंट के आगे वाले एक पैर मे काफी सूजन नजर आई, पैर को बारीक लोहे की तार से कसकर बांध रखा था,।

ऊट के पैर मे बंधीं लोहे की तार को ग्रामीणों ने कटर की सहायता से नीजी पशु चिकित्सक की मौजूदगी मे काटकर पैर मे से बाहर निकाला,पिछले दो दिनो से राष्ट्रीय पशु ऊट का ग्रामीण अपने स्तर पर उपचार करवा रहे हैं ग्रामीणों को लावारिस ऊट के मालिक की तलाश हैं,वे ऊट के मालिक तक पहुंचने के लिए लगातार सोशल मीडिया पर पोस्ट डाल कर मालिक तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं,लेकिन पिछले तीन दिनो से ऊंट का मालिक उन्हें नही मिला,ग्रामीणों का कहना है कि हम अगले एक-दो दिन तक ऊट के मालिक की तलाश कर रहे हैं,जब तक निजी डॉक्टर से उपचार भी करवायेंगे। दो दिन के बाद भी अगर ऊट का मालिक हमें नहीं मिला तो इस ऊंट को हम वन विभाग सौप देगे। ऊट के उपचार हेतु स्थानीय ग्रामीण जालाराम यादव,अध्यापक भगवानकिशोर यादव,उम्मेदाराम,पीराराम,उगमाराम,भगाराम,सुरेश,टेलारामसवाई राम,सुखाराम,खिवराज सहित अन्य ग्रामीणों की सहायता से ऊट के जख्मी पैर का उपचार करवाया जा रहा है।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *