होम अष्टमी के दिन मंदिरों में नही रही श्रद्धालुओं की भीड़ ,घरों में प्रसाद चढ़ा कर मनाई अष्ठमी

निर्मल जैन/की लाइन टाइम्स न्यूज़

बालेसर।कस्बे सहित आसपास गांवों में नवरात्रा मैं होम अष्टमी के दिन मंदिरों में सन्नाटा पसरा हुआ है। अब की बार ग्रामीणों ने अपने घरों में ही होम अष्टमी मनाई ।

नवरात्रा की होम अष्टमी के दिन बालेसर चामुंडा माता मंदिर सहित आसपास गांव में मंदिरों में मेले जैसा माहौल लगा रहता था ।बालेसर चामुंडा मंदिर में हजारों की तादाद में लोग मंदिर में देवी के दर्शन करने के लिए आते थे।

लेकिन इस बार कोरोना वायरस के संक्रमण के खौफ के चलते एवं सरकार के निर्देशानुसार लॉक डाउन के बाद मंदिरों के आगे सन्नाटा पसरा हुआ है ।कहीं भी श्रद्धालुओं की भीड़ नजर नहीं आ रही है।बालेसर चामुंडा माता मंदिर का मुख्य द्वार बंद होने से श्रद्धालु देवी के दर्शन बाहर से ही किये।

लेकिन मुख्य द्वार बंद होने से मंदिर के आगे गेट के पास ही बैठकर पूजा अर्चना कर वहीं से हाथ जोड़कर वापस लौट रहे हैं ।यही हालात अन्य मंदिरों का भी है । अधिकांश लोग तो अपने घरों में ही बैठ कर पूजा अर्चना की ।

इनका कहना है
इस बार सरकार के आदेश के बाद सबको बाहर से दर्शन करके व अपने आप बाहर प्रसाद चढ़ा कर के भीड़ नही करने व सरकार के आदेश का पालन करने की बात कह कर नियमों का पालन करने की हिदायत दी गयी।
नारायण गिरी गोस्वमी चामुंडा माता मंदिर बालेसर

व्यापारियों का कहना है
हर साल की तरह इस साल भी नवरात्रि की तैयारी होली के बाद सब पहले करके प्रसाद आदि पैकिंग करके पहले से ही तैयारी कर दी थी ।लेकिन इस बार महामारी के चलते दुकाने भी पूरी नही खुल सकी ।ओर सरकार के निर्देश का पालन करते हुए सब अपने घरों में ही रहे ।मार्किट में ग्राहकी नही रही ।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published.