प्रत्येक जीवन है कीमती, तत्परतापूर्वक करें कर्तव्यों का निवर्हन: जिलाधिकारी

कोरोना पाॅजेटिव मरीजों को शीघ्र स्वस्थ करने को सार्थक प्रयास करने का निर्देश ।

Anil kumar soni / Coordintor Bihar

बेतिया : (पश्चमी चम्पारण) जिलाधिकारी, कुंदन कुमार ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति का जीवन कीमती है। जिलेवासियों को कोरोना महामारी से बचाना हम सभी अधिकारियों का दायित्व है। इसलिए सभी अधिकारी पूरी तत्परतापूर्वक अपने कर्तव्यों का निवर्हन करें। उन्होंने कहा कि हमसभी समन्वित होकर कार्य कर रहे हैं ताकि कोरोना महामारी की जंग में विजय हासिल की जा सके। जिलास्तरीय पदाधिकारियों सहित ग्राउंड स्तर के पदाधिकारी, कर्मी कोरोना की जंग में बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे हैं परंतु कुछेक के कर्तव्य में लापरवाही बरतने की सूचना भी मिली है। ऐसे अधिकारियों, कर्मियों को चिन्हित कर कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

फोटो : समाहरणालय सभाकक्ष (बिच में ) जिलाधिकारी कुंदन कुमार, (उनके बायें) डीडीसी रविन्द्रनाथ प्रसाद सिंह (दाएं) एसडीम नंदकिशोर साह

जिलाधिकारी ने चिकित्सा पदाधिकारियों से कहा कि आइसोलेशन वार्ड में इलाजरत कोरोना पाॅजेटिव मरीजों को जल्द से जल्द स्वस्थ करने हेतु सभी कारगर उपाय किये जाये। आप सभी कोरोना पाॅजेटिव मरीज को ठीक करने के लिए अपना बेस्ट दें। उन्हें इम्युनिटी बढ़ाने वाले सारे मेडिसिन एवं अन्य सामग्रियां उपलबध करायी जाय ताकि वे शीघ्र स्वस्थ हो सके । साथ ही कोविड केयर सेंटर में सभी आवश्यक सुविधाओं यथा डाॅक्टर्स, नर्सेज, हाउसकीपिंग, खान-पान, शौचालय आदि की प्राॅपर व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय। वे समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित समीक्षात्मक बैठक में अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।

फोटों: समाहरणालय सभाकक्ष में जिलास्तरीय पदाधिकारियों सहित ग्राउंड स्तर के पदाधिकारी

उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के कारण जिले के बहुतेरे श्रमिक अन्य राज्यों में फंसे हुए हैं, जो अब वापस आ रहे हैं। इन श्रमिकों का प्राॅपर तरीके से स्क्रीनिंग करायी जाय। इनको 21 दिनों तक ब्लाॅक क्वारंटाइन सेंटर में रखना अनिवार्य है। ब्लाॅक क्वारंटाइन सेंटर में इन श्रमिकों के लिए सारी आवश्यक सुविधाएं हर हाल में मुहैया करायी जानी है। समय पर भोजन, पेयजल उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाय। क्वारंटाइन सेंटर में साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए। साथ ही ब्लीचिंग पाउडर, चूना आदि का छिड़काव भी किया जाय ताकि किसी भी प्रकार के संक्रमण का खतरा नहीं रहे। इन श्रमिकों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य रूप से पालन कराते हुए सभी क्वारंटाइन सेंटरों पर मास्क, साबुन, हैंडवाश, सैनेटाइजर आदि की समुचित व्यवस्था की जाय।

उन्होंने कहा कि ब्लाॅक क्वारंटाइन सेंटर में रहने वाले व्यक्ति किसी भी सूरत में बाहर नहीं निकले तथा कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति क्वारंटाइन सेंटर में प्रवेश नहीं करें, इसका खास ध्यान रखना है। इसके साथ ही आवश्यकतानुसार सीसीटीवी कैमरे का अधिष्ठापन, जागरूकता वगैरह से संबंधित फ्लेक्सी का अधिष्ठापन कार्य भी ससमय सुनिश्चित करायी जाय। उन्होंने कहा कि वे स्वयं ब्लाॅक क्वारंटाइन सेंटरों का औचक निरीक्षण भी करेंगे।

इस अवसर पर अपर समाहर्ता, श्री नंदकिशोर साह, उप विकास आयुक्त, श्री रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, सिविल सर्जन, डाॅ0 अरूण कुमार सिन्हा सहित सभी प्रखंडों के वरीय प्रभारी पदाधिकारी, सभी कोषांगों के वरीय/नोडल पदाधिकारी आदि पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *