शराब के नशे में हंगामा करने वाले बिहार पुलिस के दो कांस्टेबल नौकरी से हुए बर्खास्त

कर्तव्यहीनता और कुकृत्य के कारण हुए बर्खास्त- एसपी

Anil kumar soni / Coordinator Bihar

बगहा : (पश्चमी चम्पारण) एक तरफ बिहार में शराबबंदी को लेकर पुलिस महकमा पूरी तरह सख्त है.
तो वही बगहा पुलिस जिला बल के दो सिपाही गणेश सिंह और उपेंद्र राय को शहर के नरईपुर से शराब के नशे में हंगामा करते हुए पटखौली पुलिस ने 24 अप्रैल को गिरफ्तार कर जेल भेजा था.

पहले तो इन दोनों सिपाहियों के ऊपर कार्यवाही करते हुए निलंबित किया गया था. फिर मेडिकल रिपोर्ट और साक्ष्य के आधार पर दोनों को बर्खास्त कर दिया गया है.

बगहा एसपी राजीव रंजन ने बर्खास्तगी के आदेश के साथ कहा है कि ज़ब बिहार राज्य में पूर्ण रूप से शराब बंदी है.तब ये दोनों सिपाही के कृत्य से पुलिस महकमा की छवि धूमिल हुई है. जिन कारण सेवा से बर्खास्त किया जाता है.

लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी छोड़ शराब के नशे में हंगामा करने का आरोप

22 मार्च से देशभर में कोरोना को लेकर लॉकडाउन है. पुलिस विभाग का हर जवान अपनेेे -अपने जिम्मेदारी को लेकर सजग और मुस्तैद है. ऐसे में इन दोनों सिपाहियों ने न सिर्फ ड्यूटी छोड़ी बल्कि एक इलाके में पहुंचकर पहले शराब पी फिर नशे में आने के बाद जमकर हंगामा किया.
स्थानीय लोगों ने जब इनको बोलने की कोशिश की तो ये दोनों सिपाही उनके साथ भी नशे की हालत में दुर्व्यवहार किया.

फोटो : आरोपी गणेश सिंह व उपेंद्र राय

एसपी के आदेश पर पटखौली पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर मेडिकल जांच के बाद जेल भेजा था.

कर्तव्यहीनता और कुकृत्य के कारण हुए बर्खास्त- एसपी

एसपी राजीव रंजन ने बताया कि न्यायिक हिरासत में भेजे गए दोनों सिपाहियों को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है. उन सिपाहियों पर कुकृत्य, घोर अनुशासनहीनता, स्वेच्छाचारिता, कर्तव्यहीनता और अयोग्य पुलिसकर्मी के मामलेे में अनुच्छेद 311(2)(बी) में प्रदत शक्तियों का इस्तेमाल कर बर्खास्त कर दिया गया है. एसपी ने कहा है कि शराबबंदी कानून को  लागू करने के लिए कठोर से कठोर कदम उठाए जाएंगे.

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *