बिहार दरभंगा की बेटी ज्योति ने कैसे अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प के बेटी का जीत लिया दिल।

बीमार पिता को साईकिल पर बैठाकर 13 वर्षीय ज्योति ने 1200 किलोमीटर दुरी तय कर साहस का दिया प्रमाण।

ANIL KUMAR SONI / COODINATOR BIHAR

बिहार : (Bihar) दरभंगा जिले की बेटी ज्योति के हौसले और हिम्मत को सलाम।
हरियाणा के गुरुग्राम में आर्थिक हालत से परेशान और बीमार एक व्यक्ति जिसका नाम मोहन पासवान है । जहाँ 13 वर्षीय ज्योति जो लॉक डाउन के पूर्णबंदी के बाद साधन के आभाव में 1200 किलोमीटर की लम्बी दुरी तय करने की हिम्मत जुटाई। और मंजिल तक पहुँचकर दिखाई।

मोहन पासवान की तेरह साल की बेटी ज्योति साइकिल पर बीमार पिता को बैठाकर बिहार के दरभंगा स्थित अपने गांव सिरहुल्ली की ओर चल पड़ी।

जिसके हौसले की चर्चा अमेरिका तक पहुंच गई है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रम्प ने ज्योति के हौसले को काफ़ी सराहा है। उसकी संघर्षपूर्ण कहानी को उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर साझा किया है। यहां बता दें कि दरभंगा के सिरहुल्ली गांव की ज्योति लॉकडाउन के दौरान अपने बीमार पिता को लेकर साइकिल से गुड़गांव से दरभंगा पहुंच गई। तकरीबन 12 सौ किमी के इस संघर्षपूर्ण सफर को हौसले के साथ पूरा किया।


एचटी मीडिया समूह की वेबसाइट लाइव मिंट पर चल रही  ज्योति की कहानी को इवांका ट्रम्प ने ट्विटर पर साझा किया। इससे पहले हिन्दुस्तान में ज्योति की संघर्षपूर्ण कहानी सामने आने के बाद कई लोग और संगठन उसकी तथा उसके परिवार की मदद को सामने आए हैं। ज्योति आठवीं की छात्रा है। लिहाजा उसकी पढ़ाई में मदद का भरोसा दिया गया है। वहीं ज्योति को साइकिलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से अगले महीने ट्रायल के लिए भी बुलाया गया है। ज्योति ने शुक्रवार को बताया कि उसे एक कॉल आया है। साइकिलिंग फेडरेशन के चेयरमैन ओंकार सिंह ने उसे शाबाशी के साथ आशीर्वाद भी दिया।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *