बिहार में लॉकडाउन में छूट सही नहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 7 राज्यों को किया अलर्ट।

बिहार समेत पूरे देश में इस कदर बढ़ती संख्या से लॉकडाउन में दी जा रही ढील पर सवाल उठने लगा है।

ANIL KUMAR SONI / COORDINATOR BIHAR

बिहार : ( Bihar) कोरोना संक्रमण को लेकर आज पूरा देश चिंतित है। जो अब बिहार समेत पूरे देश में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या, आज चिंता का विषय बना हुआ है। आज पूरे देश की बात करें तो संक्रमितों की संख्या अब तक सवा लाख के पार हो चुका हैं। वहीं बिहार में इसका आंकड़ा 2263 तक हो चुका है।

बिहार समेत पूरे देश में इस कदर बढ़ती जनसंख्या से लॉकडाउन में दी जा रही ढील पर सवाल उठने लगा है।
पूरे देश में अब तक कोरोना संक्रमण से कुल 3,720 लोगों की मौत हो चुकी है।
ज़ब की पूरे देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सात राज्यों को सचेत किया है जिसमें बिहार भी है।
डब्लयूएचओ ने इन राज्यों को और अधिक सावधानियां बरतने की उचित सलाह देते हुए लॉकडाउन में छूट नहीं देने की अपील की है।
विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भारत के जिन सात राज्यों को अलर्ट किया है उसमें बिहार के साथ महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, तेलंगाना, चंडीगढ़, और तमिलनाडु का नाम शामिल है।

इन राज्यों में पिछले दो सप्ताह के अंदर कोरोना संक्रमण की संख्या में लगातार बृद्धि होते जा रहा है जो बढ़ते संख्या से रिकॉर्ड का आकलन किया गया है।
जिसके आधार पर डब्लयूएचओ ने माना की इन राज्यों में लॉकडाउन का प्रतिबंध जारी रखने की अभी निहायत जरूरत हैं।
डब्ल्यूएचओ ने सलाह दी है कि जिन राज्यों में 5 प्रतिशत से अधिक कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या हैं वहां पर लॉकडाउन की सख्ती से जारी रखने की जरुरत है। आंकड़ों की माने तो महाराष्ट्र में 18%, गुजरात में 9%, दिल्ली में 7%, तेलंगाना में 7%, चंडीगढ़ में 6%, तमिलनाडु में 5% और बिहार में 5% कोरोना पॉजिटिव केस पाए गए हैं। ये सभी राज्यों में डब्ल्यूएचओ के मानक से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *