कोरोना संक्रमण के बीच पारीक समाज के डॉ. मयंक और वर्षा ने पेश की मिसाल

बेहद सादगीपूर्ण तरीके से हुई डॉ. मयंक त्रिपाठी व वर्षा पारीक की शादी

निर्मल जैन /की लाइन टाइम्स न्यूज़

जोधपुर।कोविड -19 से जहाँ हर तरफ इस संक्रमण को लेकर भय का माहौल है वहीं दूसरी तरफ यह संक्रमण परिवार एवं समाज में कई तरह के बदलाव का वाहक भी बन रहा है।आये दिन ऐसे बदलाव अब देखे भी जा रहे है।ऐसे ही बदलाव की एक मिसाल रविवार को जोधपुर के सूरसागर में देखने को मिली,जब अत्यंत ही सरल एवं सादगीपूर्ण तरीके से डॉ.मयंक त्रिपाठी एवं वर्षा पारीक परिवार के कुछ ही लोगों के बीच परिणय-सूत्र में बंध गए।जीवन के सबसे महत्त्वपूर्ण अवसर को बिना दिखावे के सरल एवं सादगी से पूर्ण कर नवविवाहित जोड़े ने सम्पूर्ण परिवार,सगे-सम्बन्धी एवं समाज के सामने एक अनूठा उदाहरण प्रस्तुत किया।
सोशल-डिस्टेनसिंग का सम्मान करते हुए विवाह में वर-वधू पक्ष की तरफ से गिने-चुने पारिवारिक लोग सम्मिलित हुए जिनमें वधू पक्ष की तरफ से दादी अयोध्या देवी,पिता गोपाल पारीक,माता अनुसूया पारीक,बहिन मीनाक्षी पारीक,बहनोई जितेंद्र पारीक तथा वर पक्ष की तरफ से पिता महावीरप्रसाद त्रिपाठी,माता शकुंतला त्रिपाठी उपस्थित रहे।दूल्हा मयंक एवं दुल्हन वर्षा का पाणिग्रहण संस्कार पं.ओमदत्त शंकर महाराज ने करवाया।दुल्हन का भाई राहुल इस विवाह समारोह को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सगे-संबंधियों के सामने ब्रॉडकास्ट कर रहा था।दुल्हन के पिता गोपाल पारीक ने विवाह के सुअवसर पर पारीक समाज के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को छात्रवृति देने की भी घोषणा की।
इस अवसर पर पारीक समाज जोधपुर की सामाजिक संस्थाओं यथा-श्री पारीक हितकारिणी महासभा जोधपुर,श्री नंदनवन पारीक समाज सेवा समिति जोधपुर,द युवा पारीक सोसाइटी जोधपुर,पारीक महिला परिषद,बनाड़ पारीक समाज समिति ने नवविवाहित जोड़े को बधाई एवं शुभकामनाएँ प्रेषित की।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *