बेतिया शहर को स्वच्छ एवं सुंदर बनाने में सभी की सहभागिता आवश्यक: जिलाधिकारी।

विभिन्न विकासात्मक एवं कल्याणकारी योजनाओं की हुई समीक्षा।

सरकारी सम्पत्तियों का नुकसान करने वाले असामाजिक तत्वों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने का निदेश।

ANIL KUMAR SONI / COORDINATOT BIHAR

जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने कहा कि बेतिया शहर को स्वच्छ, सुंदर बनाने की दिशा में जिला प्रशासन द्वारा लगातार कार्य किया जा रहा है। इस कार्य में संबंधित अधिकारियों एवं कर्मियों द्वारा कड़ी मेहनत की जा रही है। इसी क्रम में विभिन्न सड़कों का निर्माण भी किया जा रहा है।

इन सड़कों पर रोड मार्किंग, कैट्स आई, डेलिनेटर आदि भी लगाया जा रहा है ताकि लोगों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। इसके साथ ही शहर को सुंदर बनाने हेतु कई कार्ययोजनाओं पर भी कार्य चल रहा है। सड़कों पर अधिष्ठापित कराये गये सामग्रियों की देखभाल करना यहां के निवासियों का कर्तव्य भी है। कई बार देखा गया है कि कुछ असामाजिक तत्व सरकारी संपत्ति का नुकसान कर देते हैं। इसलिए यह आवश्यक है कि बेतिया शहर को स्वच्छ एवं सुंदर बनाने की दिशा में कराये जा रहे कार्यों को किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचे। अगर किसी असामाजिक तत्व द्वारा नुकसान पहुंचाया जायेगा तो उनको चिन्हित करते हुए उनके विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी। जिलाधिकारी द्वारा सरकारी संपत्ति को नुकसान से बचाने हेतु आमजनों के बीच जागरूकता अभियान चलाने का निदेश संबंधित अधिकारियों को दिया गया है।

जिलाधिकारी द्वारा पथ निर्माण विभाग एवं कार्यपालक अभियंता, विद्युत को निदेश दिया है कि सड़कों के मध्य पूर्व से अधिष्ठापित विद्युत पोलों को अविलंब हटाना सुनिश्चित किया जाय। सड़क के मध्य विद्युत पोलों के कारण प्रायः छोटी-मोटी दुर्घटनाओं की आशंका बनी रहती है। इसलिए इसे तुंरत हटाना सुनिश्चित किया जाय। वहीं मुहर्रम चैक से तीन लालटेन चैक तक बनने वाली नाली के संदर्भ में कार्यपालक अभियंता, पथ निर्माण विभाग द्वारा बताया गया कि एक सप्ताह के अंदर नाली का निर्माण पूर्ण कर लिया जायेगा तथा उक्त मार्ग में सड़क का निर्माण भी अविलंब शुरू हो जायेगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि निर्माणाधीन सड़क, नाली-नालों में गुणवता का पूर्ण ख्याल रखा जाय। सभी निर्माण कार्य प्राक्कलन के अनुसार गुणवतापूर्ण होना चाहिए। इसमें किसी भी प्रकार की अनियमितता, लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, बेतिया को निदेश दिया गया कि बरसात के मद्देनजर समुचित जलनिकासी की व्यवस्था ससमय कर ली जाय। उन्होंने पूरे शहर का मुआयना कर जहां-जहां नाली-नाला जाम हैं, उसको तुरंत साफ कराया जाय ताकि जलनिकासी अवरूद्ध नहीं होने पाये। वहीं नगर को स्वच्छ एवं साफ-सुथरा बनाने के लिए डोर टू डोर कचरा कलेक्शन हर हाल में सुनिश्चित कराने का निदेश कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, बेतिया को दिया गया है। कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद द्वारा बताया गया कि शहर में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन के लिए 39 वाहन उपलब्ध हो गये हैं, शीघ्र ही इन वाहनों का उपयोग कचरा कलेक्शन में किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त 39 अन्य छोटा ट्रैक्टर मंगाया जा रहा है ताकि शहर को नियमित रूप से तीव्र गति स्वच्छ एवं साफ-सुथरा बनाया जा सके। उन्होंने बताया कि पूर्व से ही नगर परिषद में 10 ट्रैक्टर उपलब्ध हैं, जिनका इस्तेमाल कचरा उठाव में किया जाता है।

जिलाधिकारी द्वारा फुटपाथी दुकानदारों के लिए वेंडिंग जोन बनाने हेतु स्थल का चयन शीघ्र कर लेने का निदेश दिया गया है। साथ ही नगर परिषद क्षेत्र में नल-जल योजना के क्रियान्वयन की धीमी गति पर चिंता व्यक्त करते हुए तीव्र गति से क्रियान्वयन करने की बात कही गयी। उन्होंने कहा कि लोगों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने हेतु सरकार कृतसंकल्पित है। लोगों को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने में बाधा उत्पन्न करने वाले व्यक्तियों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने कहा कि नल-जल योजना के क्रियान्वयन में लक्ष्य के अनुरूप कार्य नहीं करने वाले संवेदक के विरूद्ध शोकाॅज किया जाय तथा शोकाॅज का जवाब संतोषजनक नहीं पाये जाने की स्थिति में अग्रतर कार्रवाई की जायेगी।

इस बैठक में सहायक समाहर्ता, श्री कुमार अनुराग, एसडीएम, बेतिया, श्री विद्यानाथ पासवान, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, बेतिया, श्री विजय उपाध्याय, कार्यपालक अभियंता, पथ निर्माण विभाग आदि उपस्थित रहे।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *