बिहार में 32 सीटों पर ओवैसी का चुनावी ऐलान, महागठबंधन और मुस्लिम विधायकों की मुश्किलें बढ़ी।

ओवैसी के चुनावी ऐलान से महागठबंधन और मुस्लिम विधायकों की मुश्किलें बढ़ी।

ANIL KUMAR SONI / COORDINATOR BIHAR ✍️

फाइल : फोटो

BIHAR : बिहार विधानसभा चुनाव के लिए असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने 32 सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

जिन सीटों पर ओवैसी ने चुनाव लड़ने का फैसला किया हैं उनमें से ज्यादा तर सीटों पर आरजेडी और कांग्रेस का कब्जा है।
और मुस्लिम विधायक भी अच्छे खासे हैं।

फाइल : फोटो

इन सीटों पर ओवैसी की पार्टी के चुनाव लड़ने की मंशा ने महागठबंधन के साथ ही साथ मौजूदा मुस्लिम विधायकों के लिए भी टेंशन बढ़ा दी है।

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) ने 32 सीटों को चिह्नित कर उसकी लिस्ट जारी कर दी है। इनमें से ज्यादा सीटों पर आरजेडी और कांग्रेस का कब्जा है और मुस्लिम विधायक भी अच्छे खासे हैं।

फाइल : फोटो

एआईएमआईएम ने बिहार विधानसभा की 243 में से 32 सीटों पर लड़ने की पहली लिस्ट जारी की है। इनमें से फिलहाल 16 सीटों पर आरजेडी का कब्जा है तो सात सीटें कांग्रेस के पास हैं। वहीं, चार सीटें जेडीयू और तीन सीटें बीजेपी के पास हैं। जबकि तीन सीटें अन्य के पास हैं। इसके अलावा दिलचस्प बात यह है कि इन 32 सीटों में से 10 पर मुस्लिम विधायक हैं, जिनमें से सात आरजेडी, दो कांग्रेस और एक माले से मुस्लिम विधायक हैं. ऐसे में इन सीटों पर मुस्लिम बनाम ओवैसी की पार्टी के प्रत्याशी के बीच मुकाबला होगा?

फाइल : फाइल

ओवैसी का बिहार प्लान, विधानसभा सीटों की ग्रेडिंग, सीमांचल में सबसे ज्यादा उम्मीद
ओवैसी की पार्टी ने जिन 32 सीटें का ऐलान किया है. इनमें से बरारी, बायसी, जोकीहाट, केवटी, समस्तीपुर, बिस्फी, झंझारपुर, साहेबगंज, महुआ, ढाका, रघुनाथपुर, बरौली, साहेबपुर कमाल, शाहपुर और मखदुमपुर सीट पर आरजेडी का कब्जा है। वहीं, कदवा, अमौर, बेतिया, नरकटियागंज, कहलगांव, वजीरगंज और औरंगाबाद सीट कांग्रेस के पास है।
वहीं, बाजपट्टी, फुलवारी, दारौंदा और सिमरी बख्तियारपुर सीट पर जेडीयू का कब्जा है तो रामनगर, परिहार और चैनपुर में बीजेपी का विधायक है। इसके अलावा इमामगंज सीट से जीतन राम मांझी विधायक हैं तो बोचहा में निर्दलीय और बलरामपुर में माले का कब्जा है।

फाइल : फोटो

बिहार चुनाव: ओवैसी की पार्टी ने गठबंधन के दिए संकेत, 32 सीटों की लिस्ट जारी ओवैसी की पार्टी के बिहार प्रदेश अध्यक्ष अख्तरुल ईमान ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि वह समान विचारधारा वाली पार्टी से गठबंधन करने को भी तैयार है। सीएए-एनआरसी के खिलाफ किशनगंज की रैली में ओवैसी के साथ पूर्व जीतनराम मांझी ने मंच शेयर किया था, जिसके बाद दोनों के बीच गठबंधन के कयास लगाए जा रहे थे. पर ओवैसी की पार्टी ने मांझी की सीट इमामगंज पर भी दावा करके एआईएमआईएम न साफ कर दिया है कि अभी वह किसी पर भी रियायत करने वाली नहीं है।
एआईएमआईएम ने उम्मीदवार उतारने का एलान कर महागठबंधन की मुश्किलों में इजाफा कर दिया है। ओवैसी के स्टैंड से विधानसभा चुनाव में बीजेपी-जदयू की राह आसान हो सकती है, क्योंकि उन्होंने जिन सीटों पर चुनाव लड़ने का एलान किया है, उनमें से दो तिहाई से ज्यादा सीटों पर अभी महागठबंधन का कब्जा है. ऐसे में अगर मुस्लिम वोटो का बंटवारा हुआ तो विपक्ष की राह मुश्किल हो सकती है।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *