बिहार में ड्रोन से होगी बाढ़ में फंसे लोगों की खोज !

ANIL KUMAR SONI / COORDINATOR BIHAR

बिहार: इस बार बाढ़ के दौरान खोज एवं बचाव काम में और ड्रोन का उपयोग किया जाएगा। आपदा के समय खोज एवं बचाव कार्य के दौरान होने वाली परेशानियों को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। ड्रोन के उपयोग का मकसद है कि दूर-दराज में फंसे लोगों को भी अविलंब बचाया जा सके। इसके साथ ही बाढ़ पीड़ितों के लिए अन्य निर्देश भी जारी किए गए हैं!

फाइल : फोटो


आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत की ओर से इस बाबत सभी जिला पदाधिकारी और प्रमंडलीय आयुक्त को निर्देश दिया गया है। विभाग ने कहा है आपदा में विशेषकर बाढ़ के दौरान नाव से लोगों को निकालने में कई परेशानी होती हैं। खासकर दूरदराज इलाके में फंसे होने पर उनकी सही स्थिति का अंदाजा नहीं लग पाता है। इस कारण बचाव और राहत का काम देर से शुरू हो पाता है। ऐसे में जान माल के नुकसान की आशंका अधिक रहती है। बाढ़ सहित अन्य आपदा में ड्रोन के उपयोग करने का निर्णय  बीते 22 जून को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई राज्य कार्यकारिणी समिति की बैठक में लिया गया। बाढ़ के अलावा अन्य आपदा में भी लोगों के फंसे होने पर ड्रोन की सहायता ली जा सकती है। ड्रोन चलाने को लेकर सरकार का आदेश पहले से ही जारी है।

फाइल : फोटो


फूड पैकेट अधिकतम 10 किलो का होगा!
बाढ़ के दौरान दूरदराज वाले क्षेत्रों में भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टर के माध्यम से राहत सामग्री या फूड पैकेट की एयर ड्रॉपिंग करवाई जाती है। इस बार आपदा प्रबंधन ने तय किया है कि यह फूड पैकेट अधिकतम 10 किलो का होगा ताकि इसके नुकसान होने का खतरा कम हो। जिलों को कहा गया है कि वे ऐसे क्षेत्रों की पहचान कर वहां के वृद्धजन, दिव्यांग, बच्चे, गर्भवती व धातृ महिलाओं की पहचान कर लें ताकि बाढ़ आने की स्थिति में उन्हें प्राथमिकता के आधार पर सुरक्षित बाहर निकाला जा सके।

सभी को मास्क की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करें 
सरकार की ओर से मास्क वितरण योजना पर विभाग ने कहा है कि संबंधित ग्राम पंचायत यह सुनिश्चित करें कि सभी परिवारजनों को मास्क की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित हो ताकि कोरोना का फैलाव रोका जा सके। लोगों को सुरक्षित स्थानों तक लाने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग सहित अन्य नियमों का पालन करने को कहा गया है। इस बार कोरोना के कारण नावों या मोटर वोटों को भी आवश्यकता के अनुसार सेनेटाइज किया जाएगा ताकि कोरोना संक्रमण का फैलाव नही हो।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *