पटना के एम्स में वैक्सीन का ट्रायल, 7 को दी गई पहली डोज, सफल रहा ट्रायल तो अगस्त में लॉन्च होगी वैक्सीन !

ANIL KUMAR SONI / COORDINATOR BIHAR

राजधनी पटना : एम्स में गुरुवार को सात लोगों को कोरोना की वैक्सीन की पहली डोज दी गई। ट्रायल के लिए अब तक आठ लोगों को इसकी डोज दी जा चुकी है। अभी कम से कम और 50 लोगों पर इसका ट्रायल होगा.
पटना एम्स के अधीक्षक डॉ. सीएम सिंह ने बताया कि जिन लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई है, उन्हें 14 दिन बाद दूसरी डोज दी जाएगी। 28वें दिन वैक्सीन के असर का अध्ययन होगा। इसमें यह देखा जाएगा कि वैक्सीन के कारण किसमें कितना एंटीबॉडी विकसित हुआ। पूरे अध्ययन की रिपोर्ट आईसीएमआर को भेजी जाएगी। देश में कोरोना के प्रसार रोकने और इससे बचाव के लिए आईसीएमआर की देखरेख में भारत बायोटेक ने कोरोना की वैक्सीन विकसित की है। ट्रायल सफल होने पर इसे 15 अगस्त तक लॉन्च की जाएगी।

फाइल : फोटो

वैक्सीन का ट्रायल पटना एम्स समेत देश के 13 संस्थानों में सात जुलाई से ही शुरू है। एम्स पटना में भी इसके लिए अलग-अलग डॉक्टरों की टीम गठित की गई है। 18 से 55 वर्ष के लोगों को ट्रायल के लिए आमंत्रित किया गया है। अधीक्षक ने बताया कि कई लोग वैक्सीन के ट्रायल के लिए आगे आएं हैं। बुधवार को जिसे वैक्सीन दी गई थी, वे पूरी तरह से स्वस्थ हैं। उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं हुई। 

प्लाज्मा डोनेट करने को आज से विशेष अभियान
कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखकर पटना प्रमंडल में शुक्रवार से प्लाज्मा डोनेशन अभियान शुरू होगा। प्लाज्मा डोनेशन पटना एम्स में किया जा रहा है। इससे कोरोना मरीजों को काफी लाभ हो रहा है, इसीलिए प्रशासन ने कोरोना से जंग जीत चुके लोगों से प्लाज्मा डोनेट करने की अपील की है। पटना एम्स में रोज चार लोगों का प्लाज्मा डोनेट होगा। प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने गुरुवार को प्रमंडल के पटना समेत सभी छह जिलों के डीएम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बैठक की। इसमें निर्णय हुआ कि प्लाज्मा डोनेट करने वाले को कोरोना योद्धा को प्रशंसापत्र, स्मृति चिह्न के साथ थैंक यू कार्ड तथा सालभर के अंदर जरूरत पड़ने पर एक यूनिट खून दिया जाएगा।

20 डोनर अगले चार दिनों के लिए हैं उपलब्ध
आयुक्त ने बताया कि पटना प्रमंडल में शुक्रवार से प्लाज्मा डोनेशन अभियान शुरू होगा। इसके लिए सभी छह जिलों में स्पेशल प्लाज्मा डोनर कोषांग बनेगा। सभी जिलों का रोस्टर तय होगा, जिसके आधार पर डीएम प्लाज्मा डोनर को एम्स भेजेंगे। एम्स में उनके प्लाज्मा डोनेशन के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी। अगले पांच दिनों के लिए 20 ब्लड डोनर हैं। बैठक में बक्सर और नालंदा डीएम ने पांच-पांच डोनर उपलब्ध होने की बात कही है।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *