बाढ़ का प्रकोप बिहार में बढ़ता चला जा रहा , अब तक 11 जिलों के 24.42 लाख की आबादी प्रभावित !

नेपाल में भारी बारिश के आसार, उत्तर बिहार के 15 जिले रेड जोन में !

[24/07, 16:05] PRESS: अनिल कुमार सोनी / प्रभारी बिहार
[24/07, 16:05] PRESS: ANIL KUMAR SONI / COORDINATOR BIHAR

बिहार राज्य में बाढ़ का प्रकोप निरंतर बढ़ता जा रहा है। सोमवार की शाम तक राज्य के 11 जिलों के 93 प्रखंडों की 765 पंचायतें बाढ़ से घिर गईं। इससे 24 लाख 42 हजार की आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है।

सोमवार को भी हेलीकॉप्टर के माध्यम से पूर्वी चंपारण, दरभंगा और गोपालगंज में बाढ़ पीड़ितों के बीच फूड पैकेट्स उपलब्ध कारए गए। 
आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्रुडु ने प्रेस कांफ्रेंस में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बाढ़ पीड़ितों के लिए विभिन्न जिलों में 703 सामुदायिक किचेन चलाए जा रहे हैं। यहां पर प्रतिदिन सवा तीन लाख लोगों को भोजन कराया जा रहा है। राज्य में 29 राहत शिविर भी लगाए गए हैं, जहां पर करीब 13 हजार लोगों को रखा गया है। अपर सचिव ने कहा कि बाढ़ के कारण राज्य में अभी-तक आठ लोगों की मृत्यु हुई है। 

किस जिले की कितने प्रखंड प्रभावित ! सीतामढ़ी : 14 शिवहर : 03 ,सुपौल : 05 , किशनगंज : 04 ,दरभंगा : 14 ,मुजफ्फरपुर : 13 , गोपालगंज : 05 ,पूर्वी चंपारण: 14 ,पश्चिम चंपारण : 09 ,खगड़िया:  07      सारण : 05


भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार एक अगस्त तक उत्तर बिहार व नेपाल के जलग्रहण क्षेत्र में भारी बारिश की आशंका है। उत्तर बिहार में पहले से ही 15 जिलों के 24 रेनगेज स्थलों पर सात नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। ऐसे में यदि नेपाल में और बारिश हुई तो उत्तर बिहार में गोपालगंज से लेकर कटिहार तक संकट और बढ़ेगा। इन सात नदियों में करीब दो दर्जन जगहों के तटबंध पर पहले से भारी दबाव है।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *