शाले मोहम्मद के कोरोना फैलाने के आरोप पर केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी का पलटवार, कहा-ओछी राजनीति न करें

कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने राजस्थान की कांग्रेस सरकार में मंत्री शाले मोहम्मद द्वारा आमजन में कोरोना फैलाने के आरोप पर कहा, “देश एकजुट होकर कोविड-19 से लड़ रहा है, वहीं कांग्रेस नेता सस्ती राजनीति से सुर्खियों में रहना चाहते हैं।”

जोधपुर/जैसलमेर/बाड़मेर

स्वरूप प्रजापत

राजस्थान की कांग्रेस सरकार में मंत्री शाले मोहम्मद द्वारा केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री एवं स्थानीय सांसद कैलाश चौधरी पर “क्षेत्र में कोरोना फैलाने” के कथित आरोप पर केंद्रीय मंत्री चौधरी की प्रतिक्रिया सामने आई है। कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा है कि कांग्रेस नेता को इस मुद्दे पर “सस्ती राजनीति” नहीं करनी चाहिए।

केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने शाले मोहम्मद द्वारा जैसलमेर के तीन दिवसीय दौरे के दौरान क्षेत्र की जनता में जानबूझकर कोरोना फैलाने के लगाए गए आरोप पर कहा, “हम कोरोना जैसी महामारी पर दलगत राजनीति नहीं कर रहे हैं। हम एकजुट होकर कोविड-19 से लड़ रहे हैं। मैं उनसे सस्ती राजनीति नहीं करने का अनुरोध करता हूँ।

शाले मोहम्मद का आरोप : गहलोत सरकार के मंत्री शाले मोहम्मद ने केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर कहा था कि कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कोरोना संक्रमित होने के बावजूद क्षेत्र के विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेकर आमजन में कोरोना वायरस फैलाया है। उन्होंने केंद्रीय मंत्री चौधरी पर कोरोना महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराने तक की बात कही।

केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी की सफाई : वहीं शाले मोहम्मद के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने इसे कांग्रेस की घटिया संस्कृति और मंत्री की निजी बौखलाहट बताया। केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि मेरा 6 से 8 अगस्त का जैसलमेर दौरा गहलोत सरकार की बाड़ेबंदी से पहले का तय था। वहीं 7 अगस्त की शाम को कोरोना के शुरुआती लक्षण दिखने पर मैंने तुरंत ही 8 अगस्त के जैसलमेर के तथा 9 अगस्त के जयपुर के सभी सार्वजनिक कार्यक्रम स्थगित कर दिए। 8 अगस्त को ही स्वास्थ्य जांच के लिए एम्स जोधपुर पहुंच गया। इसके बाद स्वास्थ्य जांच में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से ही यहीं आइसोलेशन में हूँ।

बीमारी और महामारी पर राजनीति दुर्भाग्यपूर्ण : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि ऐसे समय सभी को एकजुट होकर कोरोना वायरस की महामारी का सामना करना चाहिए। मैं भी देश के एक सामान्य नागरिक की तरह आप सभी की चिंता में सहभागी हूं। जब हमें कोरोना वायरस से निपटना चाहिए तब कांग्रेस पूर्वाग्रह और घृणा का ‘वायरस’ फैलाना जारी रखे हुए है।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *