पाक विस्थापित 11 जनो के शव मिलने के मामले में लोडता मे घटनास्थल पर पहुंचे आईजी

“नही सुलझ पाई गुत्थी”

“देर शाम तक आईजी देचू मे”

की लाइन टाइम्स न्यूज़ रिपोर्टर चामू प्रवीण सिंह लोड़ता

चामू — क्षेत्र के लोडता अचलावता ग्राम पंचायत मे कृषि नलकुप पर पाक विस्थापित बुधाराम भील एवं परिवार के 11 जनो के शव मिलने के मामले की गुत्थी दुसरे दिन सोमवार को भी सुलझ नही पाई। गंभीर मामले के खुलासे को लेकर आईजी नवज्योति गोगोई भी सोमवार दोपहर को देचू थाना पहुंचकर लोडता स्थित घटनास्थल पर पहुंचकर जानकारी ली। इस मामले मे केन्द्रिय गृह मंत्रालय ने भी राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है।

जोधपुर पुलिस महानिरीक्षक (रेंज) जोधपुर नवज्योति गोगोई ने घटनास्थल पर कृषि नलकुप पर बने 11 शव मिले जिस पडवे का आईजी गोगोई ने मौका देखा उन्होंने मामले के खुलासे में जुटे ग्रामीण एसपी राहुल बाहरठ समेत पुलिस अधिकारियों से फीडबैक लेकर प्रोग्रेस रिपोर्ट की जानकारी ली. हालांकि पुलिस इस मामले मे हर पहलु को जांच करती हुई जल्द खुलासा करने के लिए जुटी हुई है। मामले की जांच में पुलिस अधीक्षक राहुल बाहरठ समेत पुलिस के आला अधिकारी टीम को लगे हुए है ताकि प्रकरण का खुलासा हो सके। मौका स्थल पर एसपी राहुल बाहरठ, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुनील के पंवार, बालेसर वृताधिकारी राजुराम, सीआई राजीव भादू, जिला स्पेशल टीम के नरेन्द्र पुनिया, देचू थानाधिकारी हनुमानराम विश्नोई, ग्रामीण भींयाराम विश्नोई व प्रवीणसिह देवराज सहित अधिकारी और कर्मचारी साथ थे।

पुलिस के पहरे मे घटनास्थल

लोडता अचलावता स्थित एक कृषि नलकुप पर बने पडवे (कच्चे मकान) मे 11 जनो के शव मिलने के बाद पुलिस ने पुलिस ने घर के आसपास का पूरा इलाका सील कर दिया था सभी शवो को जोधपुर ले जाने के बाद भी जिस पडवे में यह हादसा हुआ, वहां पर भी सेतरावा चौकी के कांस्टेबल अशोक विश्नोई व चामु चौकी के पुखराज अन्य पुलिसकर्मीयो के द्वारा घटनास्थल पर पहरा लगाया जा रहा है।

आईजी गोगोई देर शाम तक देचू

आईजी नवज्योति गोगोई इस मामले के जांच व मौका देखने को लेकर सोमवार दोपाहर देचू थाना पहुंचे थे जहां से लोडता मे घटनास्थल पर पहुंचा मौका निरिक्षण करके पुनः देचू पहुंचे गए जहां पर देर शाम समाचार लिखे जाने तक देचू थाना मे ही रूके थे।

यह है मामला

कुछ साल पहले पाक से विस्थापित होकर आया बुद्धाराम भील का परिवार जो इलाके मे कृषि कार्य करता था। जो कुछ माह पहले लोडता अचलावता मे एक नलकुप पर कृषि कार्य के लिए लिया था। लेकिन रविवार सुबह नलकुप पर बने पडवे मे बुधाराम (75), बुधाराम की पत्नी अंतरा देवी (70), बुधाराम की बेटियां लक्ष्मी (40), प्रिया (25), सुमन (22), बेटा रवि (35), जिन्दा बचे केवलराम की बेटी दिया (5), बेटे दानिश (10), दयाल (11), जबकि सुरजाराम की बेटियां तैन (17) और मुकदश (16) के शव मिले थे। जबकि एकमात्र केवलराम जिन्दा बच गया जिसने परिवारिक कलह को लेकर आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित की रिपोर्ट भी दी है। लेकिन इस मामले मे अब तक यह स्पष्ट नही हो पाया है कि यह सामुहिक आत्महत्या है या फिर हत्या इस सबंध मे खुलासा नही हो पाया है। जबकि पुलिस को एक परेशान होने को लेकर लिखा एक सुसाईड नोट भी मिला है।

लोडता अचलावता स्थित कृषि नलकुप पर बने पडवे मे पाक विस्थापित एक परिवार के 11 जनो के शव मिलने के मामले मे पुलिस आईजी नवज्योति गोगोई घटनास्थल पर मौका देखकर जानकारी लेते हुए।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *