दीक्षा महोत्सव का अभिनंदन समारोह संपन्न

बालेसर । कस्बे के समता भवन परिसर में जैन भागवती दीक्षा महोत्सव का अभिनदंन समारोह रविवार को बालेसर में सम्पन्न हुआ ।

साधु मार्गी जैन संघ बालेसर के तत्वाधान में युग निर्माता आध्यात्मिक व्यसन मुक्ति के प्रणेता आचार्य श्री रामेश एंव उपाध्याय प्रवर राजेश मुनी महाराज के पावन सानिध्य में हैदराबाद से दीक्षा ग्रहण करने बालेसर आयी सिरयारी पाली के मूल निवासी एंव हैदराबाद में फाइनेंस व्यवसायी विजेन्द्र- संगीता पितलिया की 21 साल की पुत्री मुमुक्षु कोमल पितलिया 21 दिसम्बर को सुबह साढे सात बजे दीक्षा ग्रहण करेगी ।

साधु मार्गी जैन संघ बालेसर के अध्यक्ष पुखराज सांखला, ,मंत्री मोतीलाल सांखला , महेश नाहटा, समता युवा संघ के अध्यक्ष प्रमोद जैन,मंत्री जयेश सांखला ने बताया कि 20 दिसम्बर रविवार को दिशार्थी कोमल पितलिया,एंव उनके परिवार का श्री संघ द्वारा अभिनन्दन समारोह में स्वागत किया गया। साथ ही अखिल भारतीय साधूमार्गी संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष गौतमचंद रांखा, उपाध्यक्ष नेमीचंद पारख का भी स्वागत किया गया । वही ओघा बंधन,केसर छांटन ,रक्षा बंधन एंव चोबीसी भजन गायन का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ ।

21 दिसम्बर को सुबह साढे सात बजे आचार्य श्री रामेश एंव उपाध्याय प्रवर राजेश मुनी महाराज के सानिध्य में दीक्षा ग्रहण करेगीं। वही इस मौके साध्वी श्री विकास जी महाराज सहित जैन संत महात्मा एंव साध्वी मौजूद रहेगें।

वही बालेसर कस्बे के कार्यक्रम में श्री साधुमार्गी जैन संघ बालेसर,समता युवा संघ बालेसर ,समता महिला मंण्डल बालेसर एंव कस्बे के समस्त जैन समाज के व्यापारी इस कार्यक्रम में भाग लेंगे।

इस मौके पारसमल जैन ,गजेन्द्र कुमार ,अशोक कुमार सांखला,रमेश कुमार जैन , उगमराज बाफना, रावलचंद सांखला, मुनालाल सांखला,प्रकाशचंद जैन , दौलतराज जैन,महावीर जैन, शेषमल जैन,राकेश जैन, दिलीप जैन , अरविन्द जैन, अनिल जैन,विकास जैन रविन्द्र जैन,दिलीप चौपड़ा, राकेश सांखला प्रमोद जैन सहित जैन समाज के कई लोग मौजूद थे। मंच का संचालन महेश चंद नाहटा व गुलाबचंद चौपड़ा ने किया।

दीक्षार्थी का जीवन परिचय हैदराबाद में फाईनेंस व्यवसायी पारसमल पितलिया की पौत्री एंव विजेन्द्र – संगीता पितलिया की पुत्री मुमुक्षु कोमल पितलिया जो की बी.कोम. सेकिण्ड ईयर उर्तीण हैं। जिसने 04 साल तक वैराग्य काल में रहकर तपस्या करने एंव आरूग्यबोहिलाभ संस्था से धार्मिक शिक्षा ग्रहण करने के बाद अब दीक्षा लेने जा रही हैं।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *