बालेसर दुर्गावता में जैन भागवती दीक्षा का भव्य आयोजन

निर्मल जैन@बालेसर

नव दीक्षित अनन्य मुनि जी म.सा की बड़ी दीक्षा 31 दिसंबर को बालेसर दुर्गावता में होगी। आचार्य श्री रामेश के मुखारविंद से संपन्न होगी इनकी दीक्षा बालेसर सत्ता में 24 दिसंबर को हुई थी।

आचार्य भगवन रामेश एवम उपाध्याय प्रवर राजेश मुनि के पावन सानिध्य में 55 वर्षीय राजेंद्र काकरिया सुपुत्र पदमचंद काकरिया हाल निवासी चेन्नई मूलनिवासी गोगेलाव नागौर एवं उनकी धर्मसहायिका श्रीमती शोभा देवी उम्र 51वर्ष चेन्नई की जैन भागवती दीक्षा 31 दिसंबर को बालेसर दुर्गावता में आयोजित होगी।

दीक्षा की घोषणा सुनते ही पूरे समाज में खुशी की लहर दौड़ पड़ी 30 दिसंबर को दोपहर 1:00 बजे दीक्षार्थी परिवार का अभिनंदन व ओगा बंधाई, केसर छटाई, व चौबीसी कार्यक्रम का प्रोग्राम दुर्गावता में रखा गया है

इस मौके पर नेमीचंद पारख, सुमेरमल राय सोनी,इन्द्रचंद राय सोनी,दीपचंद सुमेरमल चोरड़िया, केवलचंद चोरड़िया,ढेलडिया,महावीर चंद पारख,नरेशचंद कोचर,सुरेश चंद कोचर,धनराज पारख, महेश नाहटा,निर्मल जैन,सन्तोष राय सोनी, प्रेम चंद राय सोनी ,मूलचंद चोरड़िया, नवीन पारख, रविन्द्र पारख आदि मौजूद थे।

31 दिसम्बर को होने वाली दीक्षा राजेंद्र कांकरिया का पारिवारिक विवरण
दीक्षार्थी राजेंद्र जैन
पिता का नाम पदमचंद काकरिया, माता का नाम स्व. विमला देवी काकरिया, पुत्रियां डॉ.रचना एवम दर्शना

वैराग्य काल
राजेंद्र काकरिया 2011 में आचार्य श्री रामेश के चेन्नई चातुर्मास में इनका प्रवचन सुनकर दीक्षा लेने की भावना जागृत हुई।उसके बाद से ही संयम पथ पर चलने का संकल्प लिया।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *