डांग जिले के आदिवासी क्षेत्र में, रु ४७ करोड़ की जलापूर्ति योजना का भूमिपूजन के साथ मुख्यमंत्री ने जिले को रु ७५ करोड़ के विकास कार्यों की दी सौगात

– मनीष पालवा

पोलियो मुक्त,दंगा मुक्त गुजरात की तरह जल-जनित रोग मुक्त,हैंडपम्प मुक्त गुजरात के लिए प्रतिबद्धता दिखाई मुख्यमंत्री विजयभाई रुपाणी।

गुजरात,आहवा-डांग:
आहवा: दिनांक-4: राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने  सोमवार को डांग जिले के लश्कर्याआंबा में आयोजित कार्यक्रम में 47 करोड़ की जलापूर्ति योजनाओं का भूमिपूजन किया । इसके अलावा 75 करोड़ की लागत से तैयार विकास कार्यों का लोकार्पण भी किया । इस मौके पर उन्होंने कहा कि आदिवासी बहुल पहाड़ी क्षेत्र डांग में नल से जल के लिए प्रति व्यक्ति खर्च में अधिक राशि मंजूर कर वनबंधुओं को घर तक शुद्ध पानी पहुंचाने का भगीरथ कार्य सरकार ने शुरू किया है । इसके अलावा जिले के आंतरिक क्षेत्रों में मोबाइल टावर कनेविटवीटी समस्या दूर करने के लिए साइंस टेक्नोलॉजी विभाग को 8 करोड़ के काम की मंजूरी देने की जानकारी भी उन्होंने दी।

मुख्यमंत्री ने राज्य के दूरदराज के गांवों समेत सभी क्षेत्रों में पीने का शुद्ध पानी पहुंचाकर पोलियो और दंगामुक्त गुजरात की तरह जलजनित रोगमुक्त व हैंडपंप मुक्त गुजरात के निर्माण के लिए सरकार को प्रतिबद्ध बताया । उन्होंने कहा कि पानी के लिए लोगों को दूर तक नहीं जाना पड़े इसके लिए सरकार आयोजनबद्ध कार्य में जुटी है ।

मुख्यमंत्री ने संबोधन में कहा कि भूतकाल में सरकारों ने जनता की बुनियादी जरूरतों पर ध्यान न देकर प्रजाद्रोह किया , लेकिन भाजपा सरकार ने शौचालय , पीने का पानी , आवास , गैस कनेक्शन जैसे महत्वपूर्ण कार्य कर लोगों की जरूरतों की पूर्ति की । उन्होंने कहा कि 2022 तक राज्य के घर – घर तक नल से जल पहुंचाने पर सरकार काम कर रही है । इस मौके पर उपस्थित महिला एवं बाल कल्याण वन मंत्री गणपत वसावा ने कहा कि माता और बालमृत्यु दर में कमी के लिए मुख्यमंत्री ने आदिजाति विकास विभाग के अनुदान में से डेढ़ करोड़ के खर्च से डांग जिले में ब्लड सेंटर कार्यरत किया है । उन्होंने सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान की । मुख्यमंत्री ने गर्भवती महिलाओं तथा नवजात शिशुओं के लिए प्रयोशा प्रतिष्ठान एवं दीवालीबेन ट्रस्ट पुरस्कृत मातृशक्तिकरण कल्प का शुभारंभ करते हुए प्रसूताओं को सुखड़ी , पौष्टिक तत्व एवं बेबी किट का वितरण किया ।

कार्यक्रम में महिला एवं बाल कल्याण वन मंत्री गणपत वसावा वन एवं आदिजाति राज्य मंत्री रमण पाटकर , वलसाड- डांग सांसद डॉ के.सी.पटेल,वरिष्ठ पदाधिकारी, कार्यकर्ता जिनमें जिला कलेक्टर श्री एन.के. डामोर, पुलिस अधीक्षक श्री रविराज सिंहजी जडेजा, उप वन संरक्षक श्री अग्निश्वर व्यास और नीलेश पंड्या, निवासी अधिक कलेक्टर श्री टी.के.डामोर, जल आपूर्ति बोर्ड के सूरत जोन के मुख्य अभियंता श्री एन.एच.पटेल, डांग जलापूर्ति बोर्ड के कार्यकारी अभियंता श्री डी.बी.पटेल, वासमो यूनिट मैनेजर श्री हेमंत ढीमर, समेत कई अधिकारी व भाजपा नेता मौजूद थे। साथ विभिन्न विभागों के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे और अपनी भूमिका का प्रदर्शन किया। श्रीमती बिजुबाला पटेल और शैलेशभाई ने कार्यक्रम के उद्घोषक के रूप में कार्य किया।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *