युगीन समस्याओं का समाधायक अणुव्रत.. संचय जैन

दिल्ली , रविवार ,आचार्य तुलसी और अणुव्रत
विषयक वैचारिक संगोष्ठी का आयोजन अणुव्रत विश्व भारती सोसायटी के अध्यक्ष श्री संचय जैन की अध्यक्षता मे अणुव्रत समिति दिल्ली द्वारा अणुव्रत भवन में किया गया ।जिसमे श्री संचय जैन ने कहा कि वर्तमान वैश्विक समस्याओं के समाधायक अणुव्रत दर्शन से हमें विश्वपटल को आप्लावित करना है।मुख्य वक्ता डॉ.वेदप्रताप वैदिक ने कहा कि आचार्य तुलसी का अद्भुत अवदान है अणुव्रत ,अगर इस आन्दोलन का व्यापक प्रसार हो तो समस्याएं पैदा होनी ही कम हो जायेगी।अणुव्रत न्यास के प्रबंध न्यासी श्री केसी जैन ने अणुव्रत का प्रयोगिक पक्ष रखा।डॉ.पीसी जैन ने स्वागत वक्तव्य किया।अणुविभा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री अविनाश नाहर ने आचार्य तुलसी के इस अवदान को वंदन करते हुए दिल्ली समिति के टीम वर्क की अनुशंसा की। महामन्त्री भींखम सुराना ने बच्चो का देश व अणुव्रत पत्रिका की सदस्यता वृद्धि पर विशेष बल दिया। जैन श्वेता.तेरापंथी सभा के उपाध्यक्ष डॉ.धनपत लुनिया ने ऐसे सामयिक आयोजन की सराहना की तथा सभा की ओर से अणुव्रत प्रसार हेतु दिल्ली समिति को हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया।टीपीएफ दिल्ली अध्यक्ष डॉ. कान्तिश्यामसुखा ने मिलजुल कर आगामी नवीन आयोजन की पेशकश की।आभार ज्ञापन वरिष्ट उपाध्यक्ष श्री शान्तिलाल पटावरी ने तथा कुशल संचालन मन्त्री डॉ कुसुम लुनिया ने किया।अणुव्रत गीत की जोशीली प्रस्तुति में दिल्ली उपाध्यक्ष कमल बैंगानी,सहमन्त्री ललिता मुकीम,संगठन मन्त्री धनपत नाहटा , का.स.स नीता शर्मा,गुलाब भंसाली, राजीव महनोत, ने की।इस अवसर पर विशेष रूप से उपस्थित केन्द्रीय पदाधिकारीयों श्री राकेश बरडिया, श्री संजय जैन,श्री जय प्रकाश जैन व डॉ.कमल सेठिया जी को अणुव्रत आचार संहिता दिल्ली समिति की ओर से भेंट की गई।
*दिल्ली के सभी 70 एमएलए को एक वर्ष तक अणुव्रत पत्रिका व दिल्ली की 36 पब्लिक *लाईब्रेरियों* **तथा समर्थ शिक्षा समिति की 34 स्कुलों में बच्चों का देश बाल पत्रिका **प्रेषण हेतु इन सबके पतेमय सुची व शुल्क अणुव्रत समिति दिल्ली द्वारा अणुविभा के अध्यक्ष श्री संचय जैन व महामंत्री श्री भीखम सुराणा जी को भेंट किया गया।
विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारियों व अणुव्रत परिवार के सदस्यों तथा मिडिया की उपस्थिति से भी कार्यक्रम की शोभावृद्धि हो रही थी।
कुल मिलाकर वर्ष 2021 की प्रथम संगोष्ठी से अणुव्रतमय सकारात्मकता का संचार हुआ।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *