श्रम न्यायालय के फैसले से बालेसर में खुशी की लहर

बालेसर/जोधपुर एसबीबीजे बालेसर में 7 वर्ष तक स्वीपर कम पीआॕन के रूप में सेवा देने वाले रमेश पुत्र हनुमानाराम हरिजन को श्रम न्यायालय जोधपुर के द्वारा अब पुनः भारतीय स्टेट बैंक शाखा बालेसर में सेवा देने हेतु फैसला सुनाया गया। ज्ञात रहे कि पूर्व में भारतीय स्टेट बैंक में मर्ज होने से कुछ समय पूर्व में अस्थाई कर्मचारियों को हटाया गया था।इस फैसले को रमेश ने बैंक को पार्टी बनाकर श्रम न्यायालय में केस लड़ा था श्रम न्यायालय ने 7 वर्ष की सेवा को सत्यापन करके रमेश को पुनः एसबीआई शाखा बालेसर में लगाने का आदेश दिया एवं 4 वर्ष की अवधी का 50% राशि तनख्वाह के रूप में देने का आदेश दिया। रमेश की अच्छी सेवा और कामकाज से प्रभावित खातेधारको एवं ग्रामीणों में आज खुशी की लहर दिखी । फैसले की प्रति प्राप्त होने पर कुछ मित्र गणों ने रमेश को मिठाई खिलाकर मुंह मीठा करवाया और पुनः सेवा में लगने पर माल्यार्पण कर बधाई दी।इस मौके पर भाजयुमो मंडल अध्यक्ष दिलीप शर्मा बलाऊ जाटी जेनाराम सांखला नरपत सांखला मोहनराम बेरड सलमान खान तुलछाराम प्रजापत व अन्य मित्रगण मौजूद रहे।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *