बापुनगर सोलंकियातला में अमर शहीद बिड़दसिंह राठौड़ की जयकारों के साथ प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम हुआ आयोजित।

रिपोर्ट: दुर्जनराम धांधल सोलंकियातला

सोलंकियातला। वीर सूरमा की सरजमी शेरगढ़ की ग्राम पंचायत बापूनगर सोलंकियातला में शुक्रवार को 2:00 बजे अमर शहीद बिड़दसिंह प्रतिमा अनावरण समारोह कार्यक्रम तारातरा मठ के महंत प्रतापपुरी के पावन सानिध्य में आयोजित हुआ। महंत प्रताप पुरी ने फीता काटकर जयकारों के साथ शहीद प्रतिमा का अनावरण एवं पुष्प चक्र अर्पित किया। गौरतलब है कि शहीद बिड़दसिंह राठौड़ भारतीय थल सेना में सेवा दे रहे थे और भारत – चीन युद्ध के दौरान 21 नवंबर 1962 नेफा (शिला टोप पहाड़ीें,तबांग, अरुणाचल प्रदेश) में दुश्मनों से लोहा लेते हुए वीरगति को प्राप्त हो गए थे।

कार्यक्रम के दौरान महंत प्रतापपुरी, प्रेमसिंह बाजोर एवं बाबू सिंह राठौड़ द्वारा वीरांगना समंदकवर एवं पुत्री-दामाद चंद्रकंवर-नखतसिंह भाटी घंटियाली को स्मृति चिन्ह व बाल चित्रकार हर्षवर्धनसिंह द्वारा स्वहस्त बनाई गयी हुबहू अमर शहीद राठौड़ की तस्वीर देकर सम्मानित किया गया। वही बाल चित्रकार हर्षवर्धन द्वारा बनाई गई महंत प्रताप पुरी की तस्वीर भी महंत प्रतापपुरी को भेट गयी। वही बाल चित्रकार हर्षवर्धन सिंह का हौसला आजफाई करते हुए प्रेमसिंह बाजौर ने आगे की पढ़ाई का जिम्मा भी लिया एवं बाल चित्रकार हर्षवर्धन को मंच पर बुलाकर स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बाजौर ने कहा कि शेरगढ की धरा वीर प्रसूता भूमि है इसमें देशभक्ति का जज्बा कूट-कूट कर भरा हुआ है। इसका प्रत्यक्ष उदाहरण घर-घर मे सेना के जवान, गांव गांव में शहीद है। शहीद की कोई जाति धर्म नहीं होती है। हमें शहीदों को आस्था से जोडऩा होगा। हमें अपने मांगलिक कार्यो के अवसर पर शहीद स्मारक पर नमन करने से युवा पीढी में देशभक्ति की भावना जागृत होगी। द्वारा कार्यक्रम आयोजक के कार्यकर्ता प्रेमसिंह राठौड़ ने बताया कि यह कार्यक्रम शहीद परिजन एवं समस्त ग्रामवासी बापूनगर सोलंकियातला तथा वीर शहीद वेलफेयर संस्था के सहयोग से आयोजित हुआ। इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रेमसिंह बाजोर पूर्व अध्यक्ष सैनिक कल्याण बोर्ड, बाबूसिंह राठौड़ पूर्व विधायक शेरगढ़, सांगसिंह भाटी पूर्व विधायक जैसलमेर, सांकड़ा प्रधान भगवतसिंह,कैप्टन विजयसिंह बामणू,
सरपंच संघ अध्यक्ष भवानीसिंह देचू,
भगवानसिंह तेना,बॉर्डर फिल्म के रियल हीरो भैरोसिंह, पूर्व प्रधान भंवर सिंह, करणसिंह केतु, भगवान सिंह तेना, जबरसिंह रायसर, गौरव सेनानी उतमसिंह, शहीद के दत्तक पुत्र प्रेमसिंह, खुमानसिंह, तेजसिंह पुरोहित, मदनसिंह, गुलाबसिंह, राजेंद्र दहिया, विजयकुमार दहिया, शेराराम मेघवाल,रेशमाराम भील सहित आसपास गांवों जनप्रतिनिधि एवं सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे। मंच का संचालन राजस्थानी कवि साहित्यकार डॉ मदनसिंह राठौड़ सोलंकिया तला ने किया।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *