सत्य भारती क्वालिटी सपोर्ट कार्यक्रम का संकलित मूल्यांकन

स्थानीय क्षेत्र में संचालित राजकीय विद्यालयों में भारती फाउंडेशन द्वारा संचालित सत्य भारती क्वालिटी सपोर्ट कार्यक्रम के 5 वर्ष पूर्ण होने पर शिक्षा विभाग द्वारा चयनित विद्यालयों का संकलित मूल्यांकन किया गया। जिसमें राजकीय माध्यमिक विद्यालय दूधाबेरा, रामावि गुंदियाल नाडी, राउप्रावि बेलवा मोहली, के संस्था प्रधान एवं शिक्षकों से भारती फाउंडेशन द्वारा स्थापित नए आयामों का संकलित मूल्यांकन किया गया ।

जिसमें हाउस एवं क्लब के गठन, आंतरिक एवं बाह्य प्रतियोगिता में विद्यार्थी एवं शिक्षकों की भागीदारी, स्टडी स्किल एवं लाइफ स्किल कार्यशाला में विद्यार्थियों की भागीदारी, अध्यापकों का प्रशिक्षण, शिक्षक- अभिभावक बैठक, नामांकन वृद्धि, बालिका शिक्षा, विद्यालय सौंदर्यकरण, सामाजिक- जागरूकता, भौतिक सुविधाओं का नवीनीकरण तथा विद्यालय प्रक्रियाओं के सशक्तिकरण से संबंधित जानकारी हासिल की गई। संकलित मूल्यांकन के कार्य में सेखाला ब्लॉक के सीबीईओ दलाराम बोस, बालेसर ब्लॉक के सीबीईओ सीमा शर्मा, भारती फाउंडेशन के कार्यक्रम समन्वयक सुदीप कुलश्रेष्ठ , देवेंद्र कुमार पांडे, एकेडमिक मेंटर पुनीत भटनागर, राजेंद्र कुमार शर्मा एवं किशनलाल की सक्रिय भागीदारी रही। सीबीईओ दलाराम बोस ने सेख़ाला ब्लॉक के अन्य राजकीय विद्यालयों सत्य भारती क्वालिटी सफल कार्यक्रम के संचालन की मांग की। इस दौरान राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय बेलवा मोहली के प्रधानाध्यापक लाली देवी मीणा, राजकीय माध्यमिक विद्यालय दुधा बेरा के प्रधानाध्यापक अचलाराम एवं राजकीय माध्यमिक विद्यालय गुंदीयाल नाडी की प्रधानाध्यिपका शशी शर्मा ने सत्य भारती क्वालिटी सपोर्ट कार्यक्रम के परिणाम स्वरुप विद्यालयों में अपेक्षित बदलाव की सराहना की। तथा इस बदलाव के लिए इन्होंने भारती फाउंडेशन का तहे दिल से आभार प्रकट किया।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *