गाजियाबाद:विजयनगर पुलिस ने ज्वैलर्स के यहां लूट करने वाले दो बदमाशों को दबोचा,पूरा माल बरामद

पी मौर्या ब्यूरो चीफ गाजियाबाद :-विजयनगर पुलिस ने दो मई को प्रताप विहार में शिवम ज्वैलर्स के यहां हुई लूट के मामले में दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर वारदात का खुलासा किया है। यही नहीं पुलिस ने बदमाशों के कब्जे से लूटा गया पूरा माल एक पिस्टल, एक तमंचा, स्कार्पियो कार बरामद की है। यही नहीं बदमाशों से पूछताछ में गत 20 फरवरी को लोनी में होम्योपेथिक डाक्टर की हत्या किए जाने का खुलासा किया है।एसपी सिटी श्लोक कुमार ने बताया कि प्रताप विहार जी ब्लाक में गत 2 मई को शाम साढ़े सात बजे शिवम ज्वैलर्स के यहां लूट की वारदात हुई थी। घटना के समय ज्वैलर्स मनीष वर्मा का बेटा अंकित दुकान पर बैठा था। उसी दौरान दो बदमाश दुकान में आए। इनके पास पिस्टल व तमंचे थे। बदमाशों ने अंकित से दुकान में रखे लॉकर को खुलवा कर का सोने चांदी के जेवरात के छह डिब्बे लूट लिए थे। यह घटना सीवीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी।बताया गया कि हिंडन बैराज के पास कांशीराम आवासीय योजना के नजदीक पुलिस चैकिंग कर रही थी। इसी दौरान स्कार्पियो कार को रोक कर चैकिंग की गई तो कार सवार दोनों संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया गया। इनके पास सेपिस्टल, 315 बोर का तमंचा, कारतूस मिले। पूछताछ में इन लोगों ने चौंकाने वाले तथ्यों का खुलासा किया।पूछताछ में दोनों बदमाशों ने शिवम ज्वैलर्स में लूट किए जाने का खुलासा किया। इनकी निशानदेही पर लूटा गया सारा माल बरामद कर लिया गया। बताया गया कि इन लोगों ने एक दिन पहले दुकान में रैकी की थी। रैकी करने वाला युवक चांदी चेन बनवाने के बहाने आया था। इसके अतिरिक्त यह भी पता चला कि पकड़ा गया रोहित उर्फ रिक्की ज्वैलर्स के बेटे अंकित के साथ हाईस्कूल में पढ़ा था। इसी के चलते उसने मुंह ढक रखा था।यह पता लगा कि गत 20 फरवरी को लोनी में डाक्टर वीर सिंह की हत्या कर दी गई थी। उसमें संजीव नामक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। संदीप और प्रवीण सगे भाई फरार चल रहे थे। डाक्टर की हत्या करने क लिए संदीप ने ही रोहित उर्फ रिक्की और उसके साथी राकेश दुजाना को हत्या करने के लिए सुपारी दी थी। लोनी पुलिस ने भी दोनों बदमाशों से पूछताछ की है। बताया गया कि बदमाशों का आपराधिक इतिहास भी है। गौतमबुद्धनगर, लोनी व गाजियाबाद में इनके खिलाफ मामले दर्ज हैं। प्रेसवार्ता में सीओ प्रथम धर्मेंद्र चौहान भी मौजूद रहे।बंदी अभियुक्तों के नाम पतेरोहित उर्फ रिक्की पुत्र नरेंद्र सिंह निवासी बुराड़ी दिल्लीराकेश पुत्र जयपाल सिंह निवासी दुजाना, थाना बादलपुर गौतमबुद्धनगरअभियुक्तों से की गई बरामदगीसोने की 26 अंगुठियांसोने के नौ छल्लेसोने की 21 जोड़ी बालियांएक पिस्टर, चार कारतूस315 बोर का एक तमंचा, दो कारतूसलूटी गई ज्वैलरी के छह डिब्बेएक स्कार्पियो कारसराहनीय कार्य करने वाली टीमएसएचओ विजयनगर श्यामवीर सिंह,वरिष्ठ उपनिरीक्षक संजीव कुमार,उपनिरीक्षक विनोद कुमारकांस्टेबल सचिन बालियान व अरुण कुमार

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *