लगातार सिकुड़ रहा है चंद्रमा, नासा ने दी जानकारी,हैरतअंगेज परंतु सत्य, अवश्य पढें

नई दिल्ली, आर.के.जैन,मुख्य संपादक

Key line times

वाशिंगटन, अक्सर जिस चंदामामा की कहानियां हम दादी,नानी से बचपन में सुनते आये हैं वो चंद्रमा नासा के अनुसार अब लगातार सिकुड़ रहा है जिसके कारण चंद्रमा की सतह पर झुर्रियां सी पड रही हैं, यह जानकारी नासा के एल.आ.ओ. द्वारा ली गयी लगभग 12000 तस्वीरों के आधार पर उपलब्ध हुयी है जिसके अनुसार चंद्रमा के उत्तरी ध्रुव के पास चंद्र बेसिन मे दरार पैदा हो रही है और अपनी जगह से खिसक भी रही है, जानकारी के अनुसार कई बडे बेसीनो मे से एक चंद्रमा का “मारे फ्रिगोरिस” भू वैज्ञानिको की दृष्टि में मृत स्थल माना जाता है, जैसा की पृथ्वी के साथ है, चंद्रमा मे कोई भी टैक्टोनिक प्लेट नही है फिर भी यहाँ टैक्टोनिक गतिविधियों के पाये जाने पर वैज्ञानिक आश्चर्य चकित हैं। वैज्ञानिको का मानना है कि चंद्रमा 150 फूट तक सिकुड़ चूका है जिसकी शुरुआत 4.5 अरब वर्ष पूर्व हुयी थी जिसके कारण चंद्रमा की सतह छुआरे या किशमिश की तरह झुर्रिदार हो गयी है जिससे चंद्रमा पर अक्सर भूकंप आते हैं, ऊर्जा खोने की प्रक्रिया के कारण ही धीरे धीरे चंद्रमा 150 फूट के लगभग सिकुड़ गया है।

Keylinetimes.com

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *