ट्रैक्टर और ऑटो में जबरदस्त भिड़ंत महिला समेत तीन की मौत, दो घायल


रिपोर्ट नौशाद अली: लोनी। कोतवाली क्षेत्र की चिरौड़ी मार्ग पर बुधवार दोपहर करीब दो बजे ईंटों से भरे ट्रैक्टर और ऑटो की भिड़ंत हो गई। महिला समेत तीन लोगों की मौत हो गई। हादसे में घायल दो लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चालक ट्रैक्टर छोड़कर भाग गया।
जानकारी के अनुसार, चिरौड़ी गांव में रहने वाले नईम ऑटो चलाने का काम करते हैं। वह बुधवार दोपहर बंथला से सवारी बैठाकर सिरोली गांव की तरफ जा रहे थे। ऑटो में बुलंदशहर की रहने वाली बबीता (45), उनके साथ आए बेटे के साले अनुराग (16), चिरौड़ी गांव निवासी प्रदीप और सिरौली गांव निवासी संजय बैठे थे। चिरौड़ी गांव पहुंचते ही सामने से आ रहे ईंटों से भरे तेज रफ्तार ट्रैक्टर से टक्कर हो गई। टक्कर लगते ही ऑटो पलट गया। उसमें सभी सवारी दब गई। आसपास के लोगों का जमावड़ा लग गया। लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने सभी घायलों को दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां ऑटो चालक नईम की मौत हो गई। जबकि बबीता और अनुराग की मौके पर मौत हो गई थी। वहीं प्रदीप और संजय की हालत गंभीर बताई जा रही है। लोनी सीओ राजकुमार पांडेय ने बताया कि मृतक महिला के परिवार को सूचना दे दी गई है। तीनों शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। ट्रैक्टर को कब्जे में लेकर चालक की तलाश की जा रही है।
कई फीट दूर जाकर गिरा ऑटो
लोगों के अनुसार, ऑटो और ट्रैक्टर की टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि ऑटो कई फुट उछलता हुआ दूर जाकर गिरा था। तेज रफ्तार्र इंटों से भरे ट्रैक्टर-ट्राली भी पलट गई। ट्राली में रखी सारी ईंटें सड़कों पर बिखर गई। इस दौरान जाम लग गया। पुलिस ने हादसे के बाद लोगों की मदद र्से इंटों को खाली प्लॉट में डलवा दिया। इसके बाद वाहनों की आवाजाही हुई।
15 साल पहले भी हुआ था संजय का एक्सीडेंट
चिरौड़ी गांव में सड़क हादसे में घायल हुए संजय के भाई बबली ने बताया कि संजय का करीब 15 साल पहले भी बंथला फ्लाईओवर के पास एक्सीडेंट हुआ था। जिसमें उनका एक पैर पूरी तरह खराब हो गया था। एक्सीडेंट के कई महीने तक वह अस्पताल में भर्ती रहे थे। उन्होंने बताया कि अपाहिज होने के चलते उन्होंने शादी नहीं की। हादसे के बाद वह मां प्रसंदी देवी और तीन भाइयों की देखरेख में रह रहे हैं। अब यह दूसरी दुर्घटना हो गई जिसमें उन्हें कई जगह चोट लगी है।
चिरौड़ी में खरीदे प्लॉट की किश्त देने आई थी बबीता
जानकारी के अनुसार, बबीता ने कुछ समय पहले चिरौड़ी गांव में 25 गज का प्लॉट खरीदा था। बुधवार को वह अपने बेटे के साले अनुराग के साथ गांव में प्लाट की किश्त देने आई थी। महिला ने चिरौड़ी जाने के लिए बंथला से ऑटो लिया था, लेकिन किश्त देने से पहले ही सड़क हादसे में उसकी मौत हो गई।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *