टॉयज बैंक के माध्यम से बच्चों की पढ़ने में रुचि बढ़ेगी-मेहता

राज्य के 20 जिलों के 126 राजकीय विद्यालयों में हो चुकी है टॉयज बैंक की स्थापना

ब्यूरो चीफ अमर यादव कि-लाईन-टाइम्स जोधपुर।

‘ना शौक बड़ा दिखने का ना तमन्ना खुदा होने की,बस आरजू जन्म सफल हो कोशिश इंसान होने की”

इन्ही पंक्तियों को चरितार्थ करने वाले समाज सेवक महेंद्र मेहता अंत्योदय टॉयज बैंक संस्थापक जिन्हें बचपन से माता-पिता से मिली प्रेरणा एवं बड़े भाई मीठालाल मेहता मरणोपरांत पदम श्री से सीख से आज समाज सेवा में दिन-प्रतिदिन नए आयाम गढ़ रहे है।।
कुछ वर्ष पूर्व अपनी पौत्री को टॉयज से खेल खेल में सिखाते हुए मन में विचार आया कि गरीब तबके के बच्चों जो इतने महंगे खिलौने खरीदने में असमर्थ होते हैं उनके लिए क्या किया जाए, तब मन में ठान लिया और इसी वर्ष अंत्योदय टॉयज बैंक समूह की स्थापना की और जोधपुर जिले में 4 टॉयज बैंक की सौगात दी!राज्य भर में अब तक 20 जिलों के 126 से ज्यादा राजकीय विद्यालय में टॉयज बैंक की स्थापना की जा चुकी है ।।

एक टॉय किट में इतने खिलौने आते है

अंत्योदय टॉयज बैंक में अल्फान्यूमैरिक बोर्ड, जम्बो इंडिया मैप, मिसिंग इलेक्ट्रो एजुकेशनल, मैच द नंबर ,वन प्ले बॉक्स , फ्रॉग जाइलोफोन ,टॉय बास्केट बॉल गेम, लूडो तथा शतरंज प्रदान किए जाते हैं अलग से नेल कटर भी प्रदान किए जाते है।
टॉयज बैंक की स्थापना से बच्चों के विद्यालय में ठहराव सीखने की प्रवृत्ति तथा कक्षा कक्ष गतिविधियों से जुड़ाव के बढ़ने लगा है !
संस्थापक मेहता ने बताया कि 2019 में राज्य भर में 1000 टॉयज बैंक तथा 2020 में 5000 से अधिक टॉयज बैंक देशभर में एनजीओ के माध्यम से स्थापित करने का लक्ष्य है

ये बन रहे है हज़ारों बच्चों की मुस्कान की वजह भामाशाह

गगन चौधरी, अनिल जी वेर्दिया,
नेहा मेहता , दिनेश बापना, सुरेश बापना ,मनोहर ओक, एम एस हरकावत,राकेश मेहता, अजय मेहता ,निमेष जोशी एम एस जैन मुकेश सिरोहा, एन एस खमेसरा,गिरीश धूत , प्रशांत दीवान ,अशोक बंसल , हितेश पुंगलिया ,खिलोना बेहेरा , कृति मेहरोत्रा, प्रदीप भंडारी ,आशीष शाह धीरज तलेसरा ,अतुल डोंगरे ,जयंती डांगी ,प्रशांत जी अंत्योदय टॉयज समूह से जुड़ कर भामाशाह हजारों बच्चों की मुस्कान की वजह बन रहे हैं।।

टीम राजस्थान अंत्योदय सेवक

पूरे राजस्थान से अंशुल जैन बिजोलिया,जोधपुर से रामस्वरूप जलवानिया,मुकेश सिखवाल,रामकुमार सुथार,हनुमान पटेल,बाड़मेर से पूराराम सेंवर, मूलाराम माचरा,खेमराज मुंधन ,चित्तोड़गढ़ से रामप्रसाद केवट, गजराज जी खजुरिया, रजनीश टेलर , शम्भू जी अजमेर से दिनेश वैष्णव ,मनीष दाधीच , टोंक से दिनकर विजयवर्गीय,बूंदी से रेहाना चिश्ती , अलवर से दिनेश सैनी, पाली से गजेंद्र सिंह ,राजसमंद से सरिता चौधरी, भीलवाड़ा से अशोक सुथार , उदयपुर से महिपाल सिंह , स्थापना में संस्थापक मेहता की मदद कर रहे है ।।
साथ इसी वर्ष अंत्योदय प्रकाशन के माध्यम से सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी एवं इंग्लिश स्पोकन बुक्स प्रत्येक प्राथमिक विद्यालय में उपलब्ध कराने का लक्ष्य है।।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *