दाऊद का गुर्गा नेपाल से गिरफ्तार,7.5 करोड़ की नकली करेंसी बरामद

भारतीय खुफिया एजेंसियों के इनपुट पर नेपाल की पुलिस ने दाऊद इब्राहिम के एक गुर्गे को गिरफ्तार किया है. इस शख्स का नाम युनूस अंसारी है, पुलिस ने इसके पास साढ़े सात करोड़ के नकली भारतीय नोट बरामद किए हैं. युनूस के साथ पुलिस ने 3 पाकिस्तानी मूल के लोगों को भी अरेस्ट किया है. इनकी गिरफ्तारी शुक्रवार को की गई.

आजतक को नेपाल पुलिस के अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी, दरअसल में नेपाल में रहने वाला युनूस दाऊद इब्राहिम का खास गुर्गा माना जाता है. ये शख्स दाऊद और ISI के इशारे पर नेपाल से भारत में नकली नोटों के काले कारोबार को चलाता है. युनूस अंसारी नेपाल के पूर्व मंत्री सलीम अंसारी का बेटा है, दोनों बाप-बेटों के डी कंपनी से करीबी ताल्लुक हैं और दोनों हमेशा से इंडियन एजेंसी के रडार पर रहते हैं.

इंडियन एजेंसी ने नेपाल पुलिस को अलर्ट किया था कि कुछ पाकिस्तानी एयरपोर्ट पर आ रहे हैं जिनसे मिलने युनूस जाने वाला है. नेपाल पुलिस ने काठमांडू एयरपोर्ट पर ट्रैप लगाया और वहीं पर पाकिस्तान से दोहा होते हुए एयरपोर्ट पर पहुंचे 3 पाकिस्तानी नागरिक मोहम्मद नसीरूद्दीन, मोहम्मद अतहर और महिला नादिया अम्बर को नकली भारतीय नोटों के साथ गिरफ्तार किया गया. इनके साथ दो नेपाली भी गिरफ्तार किए गए हैं. नेपाल पुलिस के मुताबिक युनूस अंसारी एयरपोर्ट पर इन सभी को साढ़े सात करोड़ के नकली भारतीय नोटों के साथ रिसीव करने गया था.

रिपोर्ट के मुताबिक नकली नोट तीन सूटकेस में भरकर रखे गए थे. नोट इतनी बड़ी तादाद में थे कि पुलिस को गिनने के लिए मशीन मंगवानी पड़ी. फिलहाल इन सभी से पूछताछ चल रही है युनूस अंसारी काफी साल जेल में रहने के बाद छूटा था और सीधा पाकिस्तान जाकर दाऊद एण्ड कंपनी से संपर्क साधा. पुलिस का कहना है कि 2000 के नकली नोटों की ये खेप नेपाल बार्डर के रास्ते भारत पहुंचाई जानी थी.

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *