“विशेष संपादकीय” गुजरात के सुरत मे कोचिंग सेंटर में छात्रों की मौत का जिम्मेदार आखिर कौन???

सूरत शहर में आगजनी की घटना का जिम्मेदार कौन ?

आर.के.जैन,मुख्य संपादक, प्रकाशक,मुद्रक, मालिक

Key line times
सूरत शहर में आगजनी की घटना
अग्निशमन दल के पास सुविधा की कमी या अग्निशमन दल की लापरवाही जांच का विषय है हीरा नगरी व टेक्सटाइल नगरी की पूरे देश मे ही नही विश्व में अपनी अलग पहचान है । आज इस आगजनी में मासूमो की जानें चली गयी इसके जिम्मेदार कौन? सरकार , प्रशासन या अग्निशमन दल की लापरवाही .. सिर्फ मुआवजा इस नुकसान की भरपाई नही कर सकता। इस हादसे के असली जिम्मेदारो को सजा मिले अगर सुविधा की कमी है तो सरकार व प्रशासन जिम्मेदारी ले और इस्तीफा दे अग्निशमन दल की लापरवाही है तो संबंधित अधिकारियों को तुरंत पदच्युत किया जाए
हमे अंदर से खोखला होना मंजूर है लेकिन बाहर से हम राष्ट्रवादी है। राष्ट्रवाद की दूसरी कड़ी की प्रथम क़िस्त उन मासूम बच्चों की गई है जो भविष्य के सितारे हो सकते थे। किंतु भ्रष्टाचार के चलते गुजरात के सूरत शहर के कोचिंग सेंटर में लगी आग से बच्चों की जिंदगी ही समाप्त हो गई।

हम लोग बहुत बड़ा तो सोचते है लेकिन कभी छोटी से छोटी चीज को लेकर कभी गंभीरता से नही सोचते।

आज अगर उस कोचिंग सेंटर में कानून के नियमों का पालन हो रहा होता तो शायद ये बच्चे जिंदा होते, लेकिन क्या करे हम राष्ट्रवाद के नाम पर व्यवस्थाओं से समझौता कर जिंदगी से भी समझौता कर सकते है।

किसी भी ऑफिस, स्कूल, कोचिंग सेंटर, दुकान आदि सार्वजनिक स्थानों पर आग लगने की स्थिति में सुरक्षा उपकरणों का कानून पूरे देश मे लागू है।

Keylinetimes.com
लेकिन कुछ चन्द मुनाफाखोर उन उपकरणों में लगने वाले खर्च से बचने के लिए प्रशासन और नेताओ से साठगांठ कर उन पैसो को तो बचा लेते है लेकिन उनकी इस सोच की वजह से मानवता शर्मशार हो जाती है।
Keylinetimes.com

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published.