कानपुर में बढे पत्रकारों पर हमले

ब्यूरो चीफ दिलशाद अहमद मोहम्मद उमर

जिला संवाददाता, कानपुर

Key line times

नही थम रहे योगी सरकार में पत्रकारों पर हमले

कानपुर ब्रेकिंग

कानपुर के शिवराज पुर थाने पर तैनात दरोगा आर पी ने की महिला पत्रकार सना से अभ्रदता, हद तो तब हो गयी जब पास में बैठे थानाध्यक्ष के सामने दरोगा ने महिला पत्रकार से किया अभ्रद भाषा का प्रयोग और छीन लिया महिला पत्रकार का मोबाइल पास में बैठे रहे साहब नही की कोई कार्यवाही रौबदार द

रोगा के ऊपर कार्यवाही अपराधो पर लगाम नही लगा पा रहा थाना शिवराजपुर तो पत्रकारों पर निकालता है भडास ये योगी सरकार की कैसी बेहाल पुलिस कब रुकेंगे पत्रकारों पर हमले-
तो वंही दूसरी तरफ आज बर्रा थाना क्षेत्र के जरौली में कार खड़ी करने को लेकर हुये
विवाद पर हेड कांस्टेबल के पुत्रों ने पत्रकार को कार से खीच कर लाठी डन्डे से प्रहार कर तमन्चे की बट से पत्रकार का सर फोड़ दिया, पुलिस ने घायल पत्रकार को भेजा मेडिकल के लिए हास्पिटल

आपको बताते चले जरौली के रहने वाले नीरज श्रीवास्तव जो कि पेशे से पत्रकार हैं, 2 दिन पुर्व वह पास के रहने वाले अपने मित्र सत्यम गुप्ता के घर गये थे जो कि सत्यम गुप्ता के मकान गली में होने के कारण नीरज ने अपनी कार गली के सामने एक मकान के सामने खड़ी कर दी,, कुछ देर बाद उस मकान में रहने वाले रघुवीर सिंह जो कि सेंट्रल हेड कांस्टेबल है ,अपने मकान के सामने कार खड़ी करके को लेकर गाली गलौज करने लगे जिसका पत्रकार ने गाली गलौज का विरोध किया, तो रघुवीर सिंह चन्देल हेड कांस्टेबल के पुत्र विकास सिंह व विपिन सिंह ने ईट पथराव कर कार के शीशे तोड़ दिये,, और मार पीट का प्रयाश किया, तो पत्रकार ने डायल 100 पर सुचना दी मौके पर पहुँची पुलिस के सामने दरोगा रघुवीर सिंह ने सार्वजनिक माफी मांग कर पत्रकार की कार मे हुये नुकसान की हरपाई की बात कही, दुसरे दिन हेड कांस्टेबल ने पत्रकार की क्षतिग्रस्त गाड़ी को सही करा दिया, आज सुबह पत्रकार नीरज श्रीवास्तव सुबह अपने निजी काम से कही जा रहे थे, तो रास्ते में हेड कांस्टेबल रघुवीर के पुत्र विकास सिंह व विपिन सिंह ने पत्रकार नीरज श्रीवास्तव की कार को रूका कर गाली गलौज कर कार से नीचे खीच लिया और कहने लगे कि तुमने हमारे पिता से अपनी गाड़ी की मरम्मत क्यो करवाई, इस बात से आक्रोश होकर विकास सिंह व विपिन सिंह ने अपने चार पाच अन्य साथियों के साथ पत्रकार को लाठी डन्डो से पीटना शुरू कर दिया, और कट्टे की बट से नीरज का सिर फोड़ दिया जिससे वह लहूलुहान होकर गिर पड़े, सुचना पर पहुँची पुलिस ने नीरज को मेडिकल के लिए काशीं राम भेजा गया, और हेड कांस्टेबल रघुवीर सिंह के पुत्र विकास सिंह को मौके पर हिरासत में ले लिया, व विपिन सिंह अपने अन्य साथियों के साथ फरार हो गया है,,

बर्रा इंस्पेक्टर अतुल श्रीवास्तव का कहना हैं कि इस मामले में पत्रकार नीरज श्रीवास्तव द्रारा हेड कांस्टेबल रघुवीर सिंह जो कि सेंट्रल स्टोर में कार्यरत है, जो कि घर के बाहर अपनी कार खड़ी कर के कई दिनो से परेशान कर रहे थे आज भी अपनी कार खड़ी कर दिये जिससे हेड कांस्टेबल के पुत्र से विवाद व मारपीट हुई हैं, जिससे दोनो पक्षो को चोटे आयी हैं, जिसमे अभियोग पजींकृत कर कार्यवाही की जा रही है।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *