मजदूरों के हक के लिए सीटू का प्रदर्शन

वेद सहगल, विशेष संवाददाता

Key line times

मजदूरों की समस्याओं के समाधान की मांग पर सीटू ने किया श्रम कार्यालय पर धरना प्रदर्शन

Keylinetimes.com

नोएडा, श्रम विभाग की उदासीनता के कारण जनपद गौतमबुद्धनगर में मजदरों पर लगातार हो रहे उत्पीडन के खिलाफ सीटू के बैनर तले बुद्ववार 29 मई 2019 को मजदूरों ने श्रम कार्यालय सैक्टर-3, नोएडा पर धरना/प्रर्दशन कर उपश्रम आयुक्त श्री पी0के0 सिंह को प्रमुख सचिव श्रम उत्तर प्रदेश सरकार एवं जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर को सम्बोधित ज्ञापन दिया दिये गये ज्ञापन में मैसर्स एक्सल प्रोडेक्सन्स बी-42, सैक्टर-67 नोएडा मैसर्स वीडियों टेक्स इन्टरनेशनल प्रा0लि0 प्लाट नं0 347 उद्योग केन्द्र -2 ग्रेटर नोएडा, मैसर्स विप्रो लिमिटेड प्लाट नं0 23 व 4 नालेज पार्क डेल्टा -1, ग्रेटर नोएडा, मैसर्स-कुवैर इण्डस्ट्रीज लि0 बी-154, सैक्टर-6, नोएडा, मैसर्स ग्लोबल आटोटेक लि0 प्लाट नं0-6 सैक्टर -44-41 कासना ग्रेटर नोएडा, मैसर्स ग्लोबल आटोटेक लि. प्लाट नं0 6 सैक्टर-44-41 कासना ग्रेटर नोएडा, मैसर्स मेन्स फील्ड केबिल्स कम्पनी लि0 सी-23 साइट सी सुरजपुर, जी0टी0 कार्गो फीटिग्स (इण्डिया) प्रा0 लि0 प्लाट नं092 उद्योग केन्द्र गेटर नोएडा, मैसर्स बाइब्राकास्टिक नोएडा प्रा0 लि0, बी-190, फैस-2 नोएडा मैसर्स इन्टर सिटी टैªर्डस प्रा0 लि0 मैसर्स नालिनी ओरिजनल्स प्रा0 लि0, मैसर्स शारदा अस्पताल, काॅनटेक्स डिवाइसेस प्रा0 लि0 जरूली रिटेलर्स प्रा0लि0, शाहिल इन्टरनेशनल, ओमेग्रा गु्रप आॅफ कम्पनीज, महागुन माई बुडस, बी0एन0एम0 कम्पोनेन्टस प्रा0लि0 आदि उद्योगों में कर्मचारियों की लम्बित समस्याओं के तुरन्त समाधान करवाने की मांग किया गया है साथ ही ज्ञापन में चेतावनी भी दी गई कि यदि श्रमिकों की समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो सीटू के नेतृत्व में मजदूर जिले में बड़ा आन्दोलन करेगे।

धरना प्रर्दशन को सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा, महासचिव राम सागर, कोषाध्यक्ष रामस्वारथ, सचिव मुकेश राधव, उपाध्यक्ष भरत डेन्जर व हुक्म सिंह सीटू दिल्ली एन0सी0आर महासचिव कामरेड अनुराग सक्सेना, राज्य कमेटी सदस्य अनयन, दिल्ली एन0सी0आर. जनवादी महिला समिति की महासचिव आशा शर्मा जिलाध्यक्ष चन्दावेगम, सचिव आशा यादव आदि ने सम्बोधित किया धरने में विभिन्न उद्योगों को सैकडों मजदूरों ने हिस्सा लिया।
गंगेश्वर दत्त शर्मा
जिलाध्यक्ष सीटू, गौतमबुद्

सेवा में,
श्री मान प्रमुख सचिव (श्रम) महोदय
उ0 प्र0 शासन, बापू भवन, लखनऊ
एवम्
श्री मान जिलाधिकारी महोदय
जनपद – गौतमबुद्धनगर
द्वारा
श्री मान उप श्रम-आयुक्त महोदय
कार्यालय जी-25 ए सेक्टर-3 नोएडा, गौतमबुद्धनगर
विषयः- जनपद के विभिन्न उद्योगों में कार्यरत संगठन से सम्बन्धित यूनियन सदस्योें
की उत्पन्न समस्याओं का पुनः ज्ञापन-पत्र।

महोदय,
हमारे संगठन से सम्बन्धित जनपद के विभिन्न उद्योगों में कार्यरत यूनियन सदस्यों की उत्पन्न समस्याओं का समाधान ना होने पर दिनाँक 22.10.2018 को उप श्रम-आयुक्त कार्यालय के समक्षः धरने के माध्यम से उप श्रम-आयुक्त के द्वारा आपको ज्ञापन-पत्र प्रस्तुत कर निवेदन किया था कि उक्त में उल्लेखित समस्याओं का सम्मान जनक समाधान कराने का कष्ट करें, परन्तू 01 माह व्यतीत होने के उपरान्त भी समस्याओं का समाधान नही हुआ है, के कारण ही हमारे संगठन से सम्बन्धित जनपद के विभिन्न उद्योगों में कार्यरत यूनियन सदस्यों ने पुनः दिनाँक 27.11.2018 को उप श्रम-आयुक्त कार्यालय के समक्षः धरने के माध्यम से उप श्रम-आयुक्त के द्वारा आपको पुनः ज्ञापन-पत्र प्रस्तुत किया था, में उल्लेखित अधिकाशं समस्याए अभी थी लम्बित है, पर ही आज दिनाँक 29.05.2019 को उप श्रम-आयुक्त कार्यालय के समक्षः धरने के माध्यम से उप श्रम-आयुक्त के द्वारा आपको ज्ञापन-पत्र प्रस्तुत कर रहे है। जो कि इस प्रकार हैः-

1. मै0 वेयरवेल इण्डिया प्रा0 लि0, बी-43 व 44 हौजरी काम्पलेक्स फेस-2 नोएडा में स्थायी रुप से कार्यरत श्रमिका अदक चैना व रेखा से संस्थान में कार्यरत डिस्टीब्यूटर श्री अजय, फीनिशिगं इन्चार्ज रन्जन व सुपरवाइजर जमशेर द्वारा लगातार कार्य स्थल पर आपत्ति जनक शब्दों का इस्तेमाल कर की जा रही छेड-छाड व सैक्सूअल सम्बन्ध बनाने के लिये दिये गये दबाब पर उनके स्वयं एव हमारे संगठन से सम्बन्धित यूनियन द्वारा की गयी शिकायतों का अभी तक समाधान नही हुआ है।

2. मै0 एक्सल प्रोडेक्सन्स, बी-42 सेक्टर-67 नोएडा में दिनाॅंक 16.05.2019 को श्रमिकों की 08 सुत्रीय समस्याए प्रस्तुत की हुई है उक्त का संज्ञान अभी तक नही लिया गया है उक्त संस्थान के प्रबन्धन द्वारा 14 श्रमिकों को विभिन्न तिथियों में कार्य से रोका हुआ है।

3. मै0 वीडियोटेक्स इन्टर नेशनल प्रा0 लि0, प्लाट नं0 347 उद्योग केन्द्र-2 ग्रेटर नोएडा में दिनाँक 08.03.2019 को 08 सुत्रीय श्रमिको की समस्याओं/माँगों पत्र प्रस्तुत किया था, के उपरान्त प्रबन्धको ने 09 श्रमिकों को कार्य से रोक दिया, पर यूनियन ने प्रबन्धको के विरूद्ध उ0प्र0 औद्योगिक विवाद अधिनियम-1947 की धारा-6 ई तहत कार्यवाही की माँग की, पर अभी तक कार्यवाही नही की गयी है।

4. मै0 विप्रो लिमिटेड, प्लाट नं0 2, 3 व 4 नालेज पार्क डेल्टा-1 ग्रेटर नोएडा में दिनाँक 07.03.2019 को श्रमिको की 07 सुत्रीय समस्याओं को प्रस्तुत किया गया है उक्त के प्रबन्धन द्वारा समस्याओं का पत्र प्राप्ति के पश्चात् श्रमिको को परेशान करने की नीयत से बेलदारी का कार्य ले रहे है और महिला श्रमिकाओं से रात्रि की पाॅली में कार्य करवाते है। उनकी सुरक्षा हेतू ना तो आने जाने की सुविधा दी जा रही है और ना ही उन्हें चाय पीने व खाना खाने के लिए कोई स्थान भी नही दिया जा रहा है।

5. मै0 कुबेर इण्डस्ट्रीज लि0, बी-154 सेक्टर-6 नोएडा में उत्पन्न समस्याओं पर भी दिनाँक 15.10.2018 को 05 सुत्रीय प्रार्थना पत्र दिया था, के उपरान्त सेवायोजक ने श्रमिको का अवैध रूप से स्थानान्तरण करने पर अडिग हो गये और श्रमिको का माह फरवरी-2019 से वेतन देना बन्द कर दिया। श्रमिक राज कुमार को माह अक्टूबर-2018 से वेतन व अतिरिक्त समय की धनराशि का भूगतान नही किया और श्रमिक धीरज महतो से दिनाँक 30.01.2019 को चुकता हिसाब प्राप्त कर लेने सम्बन्धी कागजातो पर हस्ताक्षर करवा कर बगैर कोई भूगतान दिये, संस्थान से भगा दिया।

6. मै0 ग्लोबल आटोटेक लि0, प्लाट नं0 6 एफ सेक्टर 44-41 कासना, ग्रेटर नोएडा के प्रबन्धन द्वारा दिनाँक 01.03.2019 को अवैध रूप से स्थानान्तरण करने के नाम से 03 श्रमिको को कार्य से रोक दिया, के उपरान्त दिनाॅंक 14.04.2019 से 12 और श्रमिको को कार्य से रोक दिया है। संस्थान के प्रबन्धन अपने उपरोक्त व प्लाट नं0-3 डी उद्योग बिहार, ग्रेटर नोएडा में श्रम-कारखाना कानूनों का खुला उलंघन कर संस्थानों को चला रहे है। संस्थानों में 350 श्रमिक स्थायी व 1000 से ऊपर संविदा के रूप में कार्यरत है। जबकि प्रबन्धन द्वारा श्रम विभाग से 05 सविदाकारों का लाइसेंस लोडिगं-अनलोडिगं व सुरक्षा के कार्य हेतू 180 श्रमिको का लिया हुआ है। सविदा श्रमिको को प्रदेश सरकार द्वारा धोषित न्यूनतम वेतन, बोनस, अर्जित-आकस्मिक अवकाश इत्यादि से वंचित रखे हुए है।

7. मै0 मेन्सफील्ड केबिल्स कम्पनी लि0, सी-23 साइट-सी सुरजपुर इण्डिया एरिया, ग्रेटर नोएडा में उत्पन्न समस्याओं पर भी दिनाँक 09.09.2016 को प्रार्थना पत्र दिया था, के उपरान्त उपरोक्त संस्थान राष्ट्रीय कम्पनी विधि अधिकरण के आदेश दिनाॅंक 30.11.2018 के तहत सील कर दी गयी और उक्त के पश्चात दिनाॅंक 01.12.2018 को श्रमिको को कार्य से रोक दिया गया, के उपरान्त

दिनाॅंक 08.03.2019 के आदेश पर संस्थान के सेवायोजक संस्थान को संचालित कर रहे है और उन्होने अभी तक श्रमिक दयाचन्द चैधरी, टीका राम, रामपाल व मेवालाल का दिनाॅक 18.08.2017 से किया गया निलम्बन ना तो समाप्त किया और ना ही माह नवम्बर-2017 से कोई निलम्बन भत्ता का भुगतान किया है और कार्य से रोके गये अधिकाशं श्रमिको को कार्य पर भी नही लिया है। जिसकी संराधन वार्ता उप श्रम-आयुक्त ने आहुत की हुई है।

8. मै0 जी0टी0 कार्गो फीटिग्सं (इण्डिया) प्रा0 लि0, प्लाट नं0 92 उद्योग केन्द्र, ग्रेटर नोएडा में दिनाँक 14.11.2018 को श्रमिको ने अपनी समस्याओं/माँगों का 11 सुत्रीय माँग पत्र प्रस्तुत किया हुआ है। जिसकी अभी तक समाधान नही हुआ है। जिसकी संराधन वार्ता सहायक श्रम-आयुक्त ने आहुत की हुई है।

9. मै0 वाइव्राकास्टिक नोएडा प्रा0 लि0, बी-190 फेस-2, नोएडा में उत्पन्न श्रम समस्याओं पर दिनाँक 02.06.2019 को प्रार्थना पत्र दिया गया है। जिसकी संराधन वार्ता उप श्रम-आयुक्त ने आहुत की हुई है।

10. मै0 इन्टर सिटी ट्रेडर्स प्रा0 लि0, ए-10 हौजरी काम्पलेक्स फेस-2 नोएडा में उत्पन्न समस्याओं पर भी दिनाँक 02.01.2018 को प्रार्थना पत्र दिया था। जिसका अभी तक समाधान नही हुआ है। जिसकी भी संराधन वार्ता उप श्रम-आयुक्त के समक्षः जारी है।

11. मै0 नालिनी ओरिजनल्स प्रा0लि0, सी-138 हौजरी काम्पलेक्स फेस-2 नोएडा में कार्य रहे 17 श्रमिकों को नौकरी पर भिजवाने हेतू उप श्रम-आयुक्त को प्रार्थना पत्र दिया था। जिस पर सस्ंथान स्तर पर धरना भी दिया। उप श्रमायुक्त ने उक्त पर अपने समक्षः सरांधन वार्ता बुलाई थी। जिसमें उप श्रमायुक्त ने प्रबन्धन द्वारा श्रमिकों चुकता हिसाब सम्बन्धी कागजातों पर जाँच हेतू श्रम प्रवर्तन अधिकारी को सस्ंथान स्तर पर भेजा गया। सस्ंथान स्तर पर गये श्रम प्रवर्तन अधिकारी ने वार्ता में प्रबन्धन द्वारा उनके प्रस्तुत चुकता हिसाब सम्बन्धी कागजातों पर जाँच करने के बजाए 14 श्रमिकों से स्वीकृति कराकर रिर्पोट प्रस्तुत कर दी। शेष 03 श्रमिक अभी भी अपनी नौकरी व अर्जित धनराशि को प्राप्त करने हेतू संधर्षरत है और संस्थान के प्रबन्धन बेखौफ होकर संस्थान में श्रम-कारखाना कानूनों का उलंधन कर संस्थान को चला रहे है।

12. मै0 शारदा अस्पताल, प्लाट नं0 32-34 नालेज पार्क-3 ग्रेटर नोएडा में दिनाँक 13.08.2018 को महिला सुरक्षा कर्मचारी का माह जुलाई-2018 से वेतन का भुगतान कराने व श्रम कानूनों के तहत मिलने वाली एव अन्य सुविधाओं को दिलवाने से सम्बन्धित दिनाँक 13.08.2018 को शिकायत की थी, पर श्रम प्रवर्तन अधिकारी ने दिनाँक 14.11.2018 को दिनाँक 01.07.2018 से 18.09.2018 तक का वेतन का भुगतान कराया है, के उपरान्त से याानि माह अक्टूम्बर-2018 अभी तक उक्त श्रमिक का वेतन का भूगतान नही हुआ और ना ही उक्त को श्रम-कारखना कानूनों के तहत मिलने वाली विधिक सुविधाए दी गयी है, के साथ ही दिनाँक 01.05.2019 को उक्त सस्ंथान के प्रबन्धन द्वारा 01 और श्रमिका यशवीरी को कार्य से रोक दिया गया है।

13. मै0 काॅनटेक्ट डिवाइसेस प्र0 लि0, ए-47 सेक्टर-58 नोएडा में कार्यरत रहे श्रमिकांे की कुछ धनराशि वसूल होकर दिनाँक 23.05.2018 को उप श्रम-आयुक्त कार्यालय में जमा हुई, का विरतण अभी तक नही करा गया।

14. मै0 जरूली रिटेलर्स प्रा0 लि0, ए-203 सेक्टर-83 नोएडा में दुर्धटना ग्रस्थ श्रमिक को माह जून-2018 से चिकित्सा अवकाशों व ईलाज हेतू एम्बूलेन्स का खर्चा प्रबन्धन से दिलवाने हेतू दिनाँक 24.09.2018 को शिकायत की थी। जिस पर श्रम प्रवर्तन अधिकारी ने प्रबन्धन से बात कर दुर्घटना ग्रस्थ श्रमिक को कहा कि अपने चिकित्सा अवकाशों का पैसा संस्थान से ले लो उक्त पर वह संस्थान में गया, तो प्रबन्धन ने उक्त को माह जून-2018 का मात्र चिकित्सा अवकाशों का पैसा भूगतान कर ई0एस0आई0सी0 से सम्बन्धित कागजातों पर हस्ताक्षर करवा कर बोला कि अब तुम जाओ अपना ईलाज ई0एस0आई0सी0 से कराओ और पैसा भी वही से लो। वह ई0एस0आई0सी0 में गया जहाँ उक्त का ईलाज नही हुआ है और वह अपने ईलाज व अपने परिवार के पालन पोषण हेतू परेशान होकर अपने पैतृक घर/गाॅंव बिहार अपने परिवार को लेकर अपने ईलाज हेतू चला गया है।

14. ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में कार्यरत मालियों को प्राधिकरण द्वारा वर्ष 2003 में कार्य से रोक दिया था। जिनके योजित विवादों में दिनाँक 29.05.2018 को एवार्ड जारी हुआ उक्त का पालन कराने हेतू यूनियन ने दिनाँक 11.09.2018 को प्रार्थना पत्र दिया। जिस पर दिनाँक 29.10.2018 को सहायक श्रम-आयुक्त ने पत्र जारी किया है परन्तू उक्त का पालन अभी तक नही कराया गया है।

15. मै0 राहिल इन्टरनेशनल, ए -182 सेक्टर -83 नोएडा के श्रमिको की समस्याओं/माँगों का 05 सुत्रीय माँग पत्र दिनाँक 27.03.2017 प्रस्तुत किया है। जिस पर उप श्रम-आयुक्त के समक्षः वार्ता जारी है परन्तू अभी तक कोई समाधान नही हुआ है।

16. मै0 ओमेगा ग्रुप आॅंफ कम्पनीज द्वारा संचालित संस्थान मै0 दुर्गा इण्ड0 व मै0 ओमकार इन्जन एण्ड जनरेटर प्रा0 लि0, डी-38, 255 व 316 सेक्टर-63 नोएडा में श्रम-कारखाना कानूनों को लागू कराने हेतू दिनाॅंक 04.06.2018 को, मै0 यूनाटेड प्रा0 लि0, ए-15 सेक्टर-80 नोएडा की दिनाँक 22.07.2018 को, मै0 पैराग्रीन सिक्योरिटी प्रा0 लि0, बी-138 फेस-2 नोएडा की दिनाँक 20.08.2018 को, मै0 टूडे होम किगं पार्क, टावर एच ओमेगा-1 ग्रेटर नोएडा की दिनाँक 22.09.2018 को, मै0 सिन्धू पैक इण्डिया प्रा0 लि0, बी-12 गेट नं0 05 नार्थ ब्लाँक हौजरी काम्पलेक्स फेस-2 नोएडा की दिनाँक 22.09.2018 को, मै0 मारिको प्लस प्रा0 लि0, ए-24 सेक्टर-59 नोएडा की दिनाँक 12.11.2018 को, मै0 लोर्डस क्रियेशन, बी-06 सेक्टर-6 नोएडा की दिनाँक 20.10.2018 को, मै0 निधी पेपर एण्ड प्रिन्ट पैक, प्लाट नं0 148 उद्योग केन्द्र, ग्रेटर नोएडा की दिनाँक 17.09.2018 को, मै0 यूनाइटेड इन्जीनियर्स, बी-66 सेक्टर-8 नोएडा की दिनाँक 16.10.2018 को, मै0 ए0एस0एच0 एलाइन इण्डिया प्रा0 लि0, बी-55 सेक्टर-58 नोएडा की दिनाँक 19.09.2018 को व मै0 मिगशन एल्टीमो, प्लाट नं0 जी.एच.-2 ओमीक्रोन-3 ग्रेटर नोएडा की दिनाँक 15.10.2018 को, मै0 भारत पैकेजिगं, ए-26 सेक्टर-58 नोएडा की दिनाॅंक 14.01.2019

को, मै0 महागुन माई वुडस, जी.एच.-4 सेक्टर-16 सी ग्रेटर नोएडा की दिनाँक 27.04.2019 को और उक्त के अतिरिक्त और भी अनेको शिकायतें की हुई है। जिनका कोई समाधान नही हुआ है।

17. मै0 वी0एन0एम0 कम्पोनेन्टस प्रा0लि0 व महुआ चैनल के कर्मचारियों का वाद टायमली पैमेन्ट आॅफ वेजेज एक्ट के अन्र्तगत योजित है। जिनमें कई माह बीत चुके है परन्तू अभी तक आदेश नही किए गए है।

18. उ0प्र0 औद्योगिक विवाद अधिनियम-1947 की धारा-6 एच-1 के अन्र्तगत मै0 आम्रपाली का योजित वाद में दिनाँक 27.03.2018 को वसूली प्रमाण पत्र जारी करने हेतू प्रार्थना पत्र दिया गया है परन्तू अभी तक वसूली प्रमाण पत्र जारी नही किया गया है।

श्री मान जी संगठन से सम्बन्धित जनपद के विभिन्न उद्योगों में कार्यरत यूनियन सदस्यों की उत्पन्न उपरोक्त समस्याओं का समाधान हेतू दिनाँक 22.10.2018 को आपको उप श्रम-आयुक्त कार्यालय के समक्षः धरने के माध्यम से उप श्रम-आयुक्त के द्वारा ज्ञापन-पत्र प्रस्तुत कर, आपसे निवेदन किया था, परन्तू 07 माह बीत जाने के पश्चात् भी अधिकाशं समस्याओं का कोई सम्मान जनक समाधान नही हुआ है। जिस कारण जनपद में पूर्ण रूप से औद्योगिक अशान्ति उत्पन्न होने दिन पर दिन सम्भावनाए बढ रही है। जो कि उचित नही है।

अतः उपरोक्त स्थिति में आपसे निवेदन है कि आप उपरोक्त पर तत्काल हस्तक्षेप कर जनपद के विभिन्न उद्योगों में कार्यरत श्रमिकों की उत्पन्न उपरोक्त समस्याओं का समाधान कराने का कष्ट करें अन्यथा हमारा संगठन जनपद के श्रमिकों को लाम बन्द कर बडा आन्दोलन करेगा।

भवदीय
( राम सागर )
महासचिव

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *