अखिल भारतीय आर्युविज्ञान संस्थान(एम्स) मे पंजीकरण कराना हुआ आसान, जानिये कैसे

कमल जैन, जयपुर

Key line times
एम्स हास्पिटल नई दिल्ली मे अब आधार नम्बर से होगा आनलाइन रजिस्ट्रेशन

Keylinetimes.com
नई दिल्ली – देश का सबसे बड़ा हॉस्पिटल एम्स में इलाज कराना हुआ और आसान। आधार कार्ड नम्बर दीजिये और ओन लाइन रजीसटेशन कराइये।

Keylinetimes.com
एम्स ने इसकी शुरुआत कर दी है। अब आपको ओपीडी कार्ड बनाने के लिये लम्बी लम्बी लाइन मे लगना नही पड़ेगा और ना ही किसी दलाल के चक्कर मे पड़ना पड़ेगा। इसके लिए आपको सिर्फ aiims के वेब्साइट पर जाना है और ओपीडी पे क्लिक करना है। इसमे ऑपशन आयेगा न्यू रजिस्ट्रेशन एवं ओल्ड रजिस्ट्रेशन का। इसे चुन कर अपना आधार कार्ड न. डालना है। उसमे आपकी सारी डिटेल आ जायेगी। अब आपको जिस विभाग मे दिखाना है उस पे क्लिक करना है। उसके बाद पेमेंट का आप्सन आयेगा आपको क्रेडिट कार्ड या एटीएम कार्ड का न. डालना है और ओके पे क्लिक करना है। और बस हो गया आपका रजिस्ट्रेसन
अब आपके मोबाइल पे मेसेज आ जायेगा जिसमे रजिशट्रेसन न. से लेकर डाक्टर का नाम और दूसरी सारी जानकारी आपके मोबाइल पर आ जायेगा।

Keylinetimes.com
🔗 IMPORTANT NEWS 🔗

🇮🇳 Govt. of India 🇮🇳
अब आपको अपने important documents साथ लेकर घूमने की जरूरत नही है।
इसके लिए सरकार ने Digital Locker लांच कर दिया है। जहां आप जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट,शैक्षणिक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं।
यह सुविधा पाने के लिए बस आपके पास आधार कार्ड होना चाहिए। आधार का नंबर फीड कर आप DIGITAL LOCKER अकाउंट खोल सकते हैं।
इस सुविधा की खास बात ये है कि एक बार लॉकर में अपने DOCUMENTS अपलोड करने के बाद आपको कहीं भी अपने सर्टिफिकेट की मूल कॉपी देने की जरूरत नहीं होगा। इसके लिए आपके DIGITAL LOCKER का लिंक ही काफी होगा।
DIGITAL LOCKER , प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम का अहम हिस्सा है।
डिपार्टमेंट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (डीईआईटीवाई) ने डिजिटल लॉकर का बीटा वर्जन लॉन्च किया है।

कैसे मिलेगा :
digital locker को खोलने के लिए आपको https://digitallocker.gov.in/ वेबसाइट पर जाकर अपनी आईडी बनानी होगी। आईडी बनाने के लिए आपको अपना आधार कार्ड नंबर से लॉगिन करना होगा।
लॉगिन होने के बाद आपसे जो इन्फॉर्मेंशन मांगी जाए उसे भरें। इसके बाद आपका अकाउंट बन जाएगा। अकाउंट खुलने के बाद आप कभी भी इस पर अपने पर्सनल डॉक्युमेंट्स अपलोड कर सकेंगे।
क्या है खासियत ?
DIGITAL LOCKER की खासियत ये है कि आप कहीं भी और कभी भी अपने डॉक्युमेंट्स इसके जरिए जमा कर सकते हैं।
डिजिटल लॉकर स्कीम में हर भारतीय एजुकेशनल,मेडिकल, पासपोर्ट और पैन कार्ड डिटेल्स को डिजिटल फॉर्म में रख सकता है।
वेबसाइट में कहा गया है, ‘डिजिटल लॉकर अधिकृत उपभोक्ताओं/ एजेंसियों को किसी भी समय और कहीं भी अपने दस्तावेजों को सुरक्षित तरीके से अपलोड और साझा करने की सहूलियत देंगे।’
Key line times

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *