उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग मे चल रही धांधलियों पर विशेष

आर.के.जैन,मुख्य संपादक,सुत्र

Key line times

लोक सेवा आयोग का एक और भ्रष्टाचार

Keylinetimes.com
पुनः भर्तियों पर रोक कायम करना
और उनके उच्चाधिकारी का जांच के दायरे में आना
एक बड़ी साजिश का हिस्सा नहीं तो क्या है?

युवा बेरोजगारों के साथ उनके अभिभावकों को खड़े होकर मुंह चिढ़ा रहा है लोक सेवा आयोग का यह भ्रष्टाचार
और सरकार की वह नीति जिसमें भ्रष्टाचार का अंत शामिल था
भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ता हुआ दिखाई दिया
सपा सरकार के समय में आयोग के अध्यक्ष रहे अनिल यादव की आज़ फिर याद पुन: ताज़ी हो गई
जिन पर गाज गिरने के बाद इलाहाबाद में, प्रतियोगिता की तैयारी कर रहे
छात्र-छात्राओं ने मिठाई बांटकर और गोले दागकर जश्न मनाया था
सरकार कोई भी हो लगता है साजिशें नहीं थम सकेंगी

जब भी मैं महंगाई और बेरोजगारी के ऊपर कोई भी

लेख लिखा गया है
तो यही पढ़े-लिखे बेरोजगारों की फौज़ सरकारों की तरफ से झंडा लेकर
हमारे सामने खड़ी हो जाती है ।
सरकार की एक नियत ऐसी भी है
वांट निकालेगी ,पोस्टल ऑर्डर लेगी , टाइम पास एग्जाम भी कराएगी परन्तु रिजल्ट भी ना देगी या
अपने ही बंधुओं के द्वारा उस पर अविश्वास खड़ा करा देगी
और नहीं तो संबंधित कोर्ट में कहीं से मुकदमा दायर कर देगी
भारत के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाले यह राज नेता और ऊंचे क्लास के अफ़सर
आज़ की युवा शक्ति के दुश्मन बन कर बैठे हुए हैं।
युवा बेरोजगारों का शोषण अजीबोगरीब तरह से हो रहा है , अपने जाति, धर्म ,और पसंद की पार्टी या “व्यक्ति के लिए” यह पढे लिखे बेरोजगार जो मां बाप और भारत के भविष्य के ऊपर एक बोझ बनते जा रहे हैं
अपनी कुंठा और अलग तरह से निकालकर,
किसी दूसरे पार्टी की जनसभा में अपने पसंद के नेता का नाम लेकर अगले का माहौल बनाने बिगाड़ने लगते है

Keylinetimes.com

जहां देश के युवा दुलारों के साथ अन्याय ही कहा जाएगा
लेकिन थोड़ी सी प्रसन्नता इस बात की है की बेरोजगारी की दौर में वह अपने संबंधित प्रिय नेता का झंडा खुलेआम लेकर दौड़ सकेंगे
और अपने मनपसंद का नारा गढ़ सकेंगे .
जहां लोक सेवा
आयोग के अध्यक्ष और नियंत्रक की गलती
महसूस की जा रही है
क्या वहीं सरकार की मंशा को पवित्र माना जा सकता है ?
एक बार फिर
मोदी सरकार
मोदी जी दूसरी बार आए हैं.
हो सकता है इनके आने के बाद उज्जवला गैस की तरह बेरोजगारों को भी राहत मिल सके
क्योंकि देश की दो करोड़ से ज्यादा
गृहणिया राहत महसूस कर रही हैं
Keylinetimes.com

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *