अमेठी:सुरेंद्र प्रताप सिंह के हत्यारे को एनकाउंटर के बाद धर दबोचा

अमेठी से सांसद स्मृति इरानी के सहायक सुरेंद्र प्रताप सिंह का मर्डर करने वाले मुख्य अभियुक्त को पुलिस ने एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने शुक्रवार को सुरेंद्र की हत्या के मुख्य अभियुक्त वसीम को अमेठी के जामो क्षेत्र में धर दबोचा।
अमेठी से पहली बार सांसद चुनकर आईं स्मृति ईरानी की जीत में बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान

सुरेंद्र सिंह का अहम योगदान था। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की इस सीट पर सुरेंद्र सिंह ने ही वोटरों को स्मृति इरानी के पक्ष में लाने में अहम भूमिका अदा की थी। चुनाव परिणामों के 3 दिन बाद 26 मई को सुरेंद्र सिंह की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।इस मर्डर का मास्टरमाइंड वसीम था, जिसे शुक्रवार को पुलिस ने धर दबोचा। पुलिस को इस हत्या के बाद से ही इसकी तलाश थी। इससे पहले ही 4 अन्य अभियुक्तों नसीम, धर्मनाथ गुप्ता, रामचंद्र और गोलू को सुरेंद्र की हत्या के बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया था। वसीम के साथ इस मुठभेड़ में पुलिस को .315 की देसी पिस्टल भी मिली, जिसे उसने जब्त कर लिया है।

अमेठी के सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस राजेश कुमार ने बताया, ‘हमने जामो गांव के पास रात करीब 1 बजे अभियुक्त को घेर लिया, लेकिन उसने हमारे ऊपर दो बार फायर किया और वहां से भाग निकला। हमारी एक बैकअप टीम ने उसे आरएस पब्लिक स्कूल के पास तब धर लिया, जब वह अपनी बाइक पर सवार होकर खुले में गोलियां उड़ाते हुए भाग रहा था। जवाब में पुलिस ने भी गोली चलाई और एक गोली उसके दाएं पैर में जा लगी और अपने वाहन नीचे गिर गया।’

बता दें अमेठी के बरौलिया के पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की 26 मई (शनिवार देर रात) करीब 3 बजे हमलावरों ने उस वक्त गोली मारकर हत्या कर दी, जब वह अपने घर के बाहर बरामदे में सो रहे थे। बता दें स्मृति इरानी के चुनाव में लगातार ऐक्टिव रहे सुरेंद्र की स्मृति की जीत में काफी अहम भूमिका थी। राहुल गांधी के हारने से कई कांग्रेसी नाराज थे।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *