10 वर्ष की बच्ची ने संथारा पूर्वक किया देह त्याग

आर.के.जैन,एडिटर इन चीफ

Key line times

१० साल की नन्ही सी बच्ची ने आखिर क्यों लिया संथारा??

मैसूर,कर्नाटक,आज कल फेसबुक, व्हाट्स और पूरे जैन समाज मे एक ही चर्चा हो रही है कि आखिर 10 साल की बच्ची ने क्यों लिया संथारा हम आपको जो बताने जा रहे है कि मैसूर निवासी कैलाशचंद जी बोहरा के सुपुत्र दीपक जी बोहरा की सुपुत्री लाड़ली तृप्ति का सचेत अवस्था में संथारा लेने का कारण ब्रेन ट्यूमर केंसर था

जिसका अंतिम पड़ाव था, डॉक्टर ने कहा इस बच्ची के जीने की अब कोई उम्मीद नही है, जब हॉस्पिटल से घर लेकर आये तो तृप्ति ने कहा दादाजी मैं अपनी जिंदगी के अंतिम पड़ाव में जैन धर्म को समर्पित होना चाहती हूँ और मैं संथारा लेना चाहती हूँ, तृप्ति ने अपने मुख से संथारा का पच्छखाण लिया और संथारा ले लिया, तकरीबन 4 घंटे संथारे के पश्चात रात 11:40 मिनट पर तृप्ति जैन ने धर्म के इतिहास में अपना नाम दर्ज करवा कर अपने परिवार एंव इस नश्वर संसार को अलविदा कह दिया ये सम्पूर्ण जानकारी तृप्ति के पिताजी श्री दीपक जी बोहरा ने दी।

आर.के.जैन

मुख्य संपादक

Key line times

Keylinetimes.com

7011663763,9582055254

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published.