गाजियाबाद : एक लाख 75 हजार रुपये में बिका वीआईपी नंबर 0001

जे॰पी॰ मौर्या,ब्यूरो चीफ़,गाजियाबाद : संभागीय परिवहन कार्यालय की तरफ से वीआईपी नंबरों की ऑनलाइन नीलामी की गई है। बृहस्पतिवार को राजनगर एक्सटेंशन स्थित वुडहिल कंपनी ने यूपी14 ईबी सीरीज का 0001 नंबर के लिए सबसे बड़ी बोली लगाई। कंपनी ने यह नंबर एक लाख 75 हजार रुपये की बोली लगाकर हासिल किया। इसके बाद दूसरी सबसे बड़ी बोली यूपी14 ईबी0007 नंबर के लिए लगाई गई है जो ओमप्रकाश नागर नाम के व्यक्ति ने अपनी गाड़ी के लिए 69 हजार रुपये में खरीदा है।
वुडहिल कंपनी के पास में पहले से कई सारी वीआईपी नंबरों की गाड़ी है। 22 मई को बरेली में दुर्घटना में क्षतिग्रस्त हुई यूपी14 डीजे2022 नंबर की गाड़ी भी वुडहिल के नाम पर थी। कंपनी ने इस गाड़ी को बसपा नेता मुनकाद अली को दे रखा था। बताया जाता है कि यह कंपनी भाजपा नेता व पूर्व एमएलसी की है। अब कंपनी ने एक बार फिर ऊंची बोली लगाकर वीआईपी नंबर हासिल कर लिया है। परिवहन विभाग ने ऑनलाइन नीलामी प्रक्रिया के बाद कुल 10 वीआईपी नंबरों की बिक्री की है। सबसे कम बोली यूपी14 ईबी 4141 नंबर के लिए लगी है जो तीन हजार रुपये में बिका है। 10 हजार से ऊपर सिर्फ पांच ही वीआईपी नंबर बिक पाए हैं। ध्यान रहे कि वीआईपी नंबर की प्रक्रिया के लिए अब ऑनलाइन प्रक्रिया को अपनाया जा रहा है। इसके लिए विभाग नंबर का बेस मूल्य निर्धारित कर उनकी नीलामी प्रक्रिया शुरू करता है। किसी भी वीआईपी नंबर की बिक्री के लिए न्यूनतम दो बोली लगनी जरूरी हैं। इसमें सबसे अधिक बोली लगाने वाले व्यक्ति को नंबर बेच दिया जाता है।

Share this news:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *